चुनावी गाइडलाइन के साथ बिहार चुनाव 2020 को अंतिम रुप देने में जुटी भाजपा

0
305
bihar breaking news

चुनाव आयोग से चुनावी गाइडलाइन मिलते ही सभी राजनीतिक पार्टियां बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की तैयारियों को अंतिम रुप देने में देने में जुट गयी है. इसी कड़ी में शनिवार को भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक हुयी. प्रदेश कार्यकारिणी की ये बैठक राजधानी पटना स्थित भाजपा कार्यालय में आयोजित की गयी थी. इस बैठक में बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, भाजपा नेता नंद किशोर यादव, समेत अन्य कई लोग शामिल हुये.

मार्गदर्शन बढ़ाएगा मनोबल

इस बैठक के दौरान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल ने प्रदेश कार्यसमिति की इस बैठक के विषय में कहा कि यह बैठक बिहार भाजपा के लिए काफी अहम है. उन्होंने बताया कि बैठक में आगे के कार्यक्रमों के साथ-साथ आगामी चुनाव से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की जाएगी. इसके अलावा बैठक के जरिए प्रदेश के राजनीतिक हालात पर पूरे सभी कार्यकर्ताओं से लेकर पार्टी के शीर्ष नेताओं द्वारा फीडबैक भी लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि इस बैठक के जरिए बिहार के नेताओं को राष्ट्रीय नेताओं से मिलने वाला मार्गदर्शन ना केवल पार्टी के नेताओं को मनोबल को बढ़ाएगा, बल्कि इससे भविष्य की रणनीति भी तय होगी.

बता दें कि संजय जायसवाल ने कहा कि कोरोना संकट के कारण यह बैठक पूरी तरह से साइबर माध्यमों के जरिए आयोजित की जा रही है. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि पार्टी के और भी कई अन्य वैसे नेता जो यहां फिजिकली उपस्थित नहीं हैं, वो मोबाइल या लैपटॉप के जरिए अपने अपने स्थान से ही इस बैठक से जुड़ें हैं. उन्होंने कहा कि इस देश में शायद पहली बार कोई पार्टी इस तरह के महत्वपूर्ण बैठक को वर्चुअल माध्यम के जरिए आयोजित कर रही है.

नौबतपुर में युवक हत्याकांड में शामिल 4 अपराधी गिरफ्तार

उन्होंने कहा कि इससे पहले भी बीजेपी बिहार जनसंवाद और विधानसभा वार बैठकर भी वर्चुअल माध्यम से सफलतापूर्वक कर चुकी है. इस सब के बीच संजय जायसवाल ने कहा कि ये सारी चीजें यह साबित करता है कि संकट चाहे कैसा भी हो, बीजेपी के बढ़ते कदमों को कोई नहीं रोक सकता.

बिहार चुनाव 2020, विपक्ष पर जमकर निशाना

विदित हो कि इस बैठक के दौरान संजय जायसवाल ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा, वो बगैर किसी का नाम लिए. उन्होंने जहां एक तरफ यह कहा कि विपक्ष ने यानि आरजेडी ने अपने 15 साल के कार्यकाल में कोई काम नहीं किया. उनका कहना था कि विपक्ष के रहते बिहार में सिर्फ अपराध हुआ. इस पूरी बातचीत के दौरान वे इस बात का दंभ भरते नज़र आये कि बिहार में विकास का जो भी काम हुआ है, वो एनडीए के कार्यकाल में ही हुआ है.

उन्होंने बाढ़ पीड़ितों की दयनीय हालात पर बात करने की बजाए यह कहा कि हमारी सरकार बाढ़ पीड़ितों को मुफ्त में राशन देने का काम कर रही है. उन्होंने कहा कि गरीबी और कष्ट को वही समझ सकता है जो खुद गरीब हो और उस जिंदगी को जिया हो. ऐसे में उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी का नाम लेते हुये कहा कि अपने नरेंद्र भाई मोदी महादलित और गरीब तबके से आते हैं, इसलिए उन्होंने गरीबों के दर्द को समझा है, औऱ उनके हित के लिए लगातार काम किया है.

स्वच्छता सर्वेश्रण 2020 के रिपोर्ट में पटना सर्वाधिक गंदा शहर

यह कहना गलत नहीं होगा कि कुळ मिलाकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल आगामी विधानसभा चुनाव में एनडीए के एजेंडे को बताने की बजाए भाजपा और एनडीए सरकार की उपलब्धियों को गिनाते रहें.