स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के रिपोर्ट में पटना सर्वाधिक गंदा शहर, नेता प्रतिपक्ष ने ली चुटकी

0
536
bihar breaking news

बिहार की राजधानी पटना स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के रिपोर्ट के मुताबिक देश का सर्वाधिक गंदा शहर की सूची में पहले स्थान पर है. इसके अलावे स्वच्छता सर्वे में शामिल बिहार के सभी शहरी निकाह एक बार फिर से फिसड्डी साबित हुआ हैं. स्वच्छता संबंधित इस रिपोर्ट के आने के बाद अब बिहार में सियासत शुरू हो गई है. इस रिपोर्ट के आधार पर विपक्ष बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल पूछ रहा है. आरजेडी के युवा नेता व बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने तो सीएम नीतीश कुमार पर ट्वीट कर तंज कसा है.

बता दें कि राजधानी पटना को देश का सबसे गंदा शहर की लिस्ट में प्रथम आने पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर सीएम नीतीश पर करारा तंज किया है. तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुये लिखा है कि देश में पटना को गंदगी में नंबर-1 स्थान मिलने पर 15 वर्षों बिहार की कमान बतौर सीएम संभालने वाले माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी को कोटि-कोटि बधाई. चलिए 15 वर्षों में कहीं तो नंबर-1 स्थान प्राप्त किया. यह पहला मौका नहीं है, जब तेजस्वी ने सीएम नीतीश पर तंज कसा है. चुनावी तैयारी में जुटे तेजस्वी यादव लगातार सीएम नीतीश पर हमला कर रहे हैं, इस बीच तेजस्वी यादव को पटना को सबसे डर्टी सिटी होने के तौर पर बड़ा मुद्दा हाथ लग गया है.

महागठबंधन की दूसरी बड़ी पार्टी कांग्रेस ने भी कसा सीएम पर तंज

कांग्रेस का कहना है कि दस लाख से अधिक आबादी वाले देश के 47 शहरों में पटना ने नीचे से टॉप किया है. मतलब पटना को सबसे गंदा शहर माना गया है. दरअसल, स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 की रिपोर्ट आने के बाद कांग्रेस ने सीएम नीतीश के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. कांग्रेस प्रवक्ता और एमएसली प्रेमचंद मिश्रा ने बिहार सरकार पर बड़ा हमला किया है. उन्होंने नीतीश सरकार से सवाल पूछा है, और कहा है कि यह रिपोर्ट कांग्रेस सरकार ने नहीं भाजपा सरकार ने जारी की है. जिसके आप सहयोगी हैं. प्रेमचंद मिश्रा ने आरोप लगाया है कि पटना की साफ सफाई के नाम पर करोड़ो रुपये महज कागजों पर ही नज़र आता है.

कोरोना संकट के बीच बिहार में जॉब के सुनहरे अवसर