नीतीश कुमार का फैसला: लॉक डाउन को सफल बनाने के लिए पुलिस बल का प्रयोग

0
1395
bihar breaking news

नीतीश कुमार का फैसला: बिहार राज्य में 31 मार्च तक लॉक डाउन लागू किया गया है। लॉक डाउन को सफल बनाने के लिए अब पुलिस बल का प्रयोग किया जाएगा। इस संबंध में मुख्य सचिव और डीजीपी की अध्यक्षता में राज्य के सभी कमिश्नर, डीएम और एसपी के साथ बैठक हुई। सभी जिलों में 5 सेल का गठन किया जा रहा है। इसके अलावा गांव के स्कूलों में भी वायरस के पॉजिटिव या संदिग्ध को रखा जाएगा।

बैठक के बाद स्वास्थ विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने इसकी जानकारी दी। संजय कुमार ने कहा कि लॉक डाउन एक बड़ा विषय है और राज्य के लोगों को भी इसके पूर्व कई जरूरतें पूरी करनी होगी। उनकी सारी जरूरतें पूरी की जा रही हैं। संजय कुमार ने बताया कि सभी डीएम की अध्यक्षता में जिलों में 5 सेल का गठन करने का निर्देश दिया गया है। बता दें कि स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि मुख्य सचिव ने राज्य के सभी एसपी की अध्यक्षता में एक इनफॉर्मेंट सेल बनाने का निर्देश दिया है। जो राज्य में लागू लॉक डाउन की समीक्षा कर रिपोर्ट देगी।

राज्य के सभी एसपी के द्वारा लॉक डाउन को सफल बनाने के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएंगे। यानी अब अगले 24 घंटे के बाद सड़कों पर आसानी से कोई भी व्यक्ति नहीं निकल पाएगा। सिर्फ आपात सेवा के लिए ही राज्य वासी सड़कों पर निकल सकेंगे। संजय कुमार ने यह भी बताया कि गांव में अगर कोई संदिग्ध पाया जाता है तो उसे स्थानीय सरकारी स्कूलों में रखने की पूरी व्यवस्था की जा रही है। संदिग्धों को कम से कम 15 दिनों तक अलग रखा जाएगा। इसके लिए पंचायत के मुखिया वार्ड सदस्य, आंगनवाड़ी सेविका और आशा वर्करों को शक्तियां प्रदान की गई हैं।

बिहार सरकार की राहत पैकेज की घोषणा

आज 1 अणे मार्ग स्थित संकल्प में मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने कोरोना वायरस से उत्पन्न संक्रमण की गंभीर स्थिति की समीक्षा की। समीक्षा बैठक में उपमुख्यमंत्री श्री सुशील कुमार मोदी, स्वास्थ्य मंत्री श्री मंगल पाण्डेय, जल संसाधन मंत्री श्री संजय कुमार झा तथा मुख्य सचिव श्री दीपक कुमार सहित वरीय अधिकारीगण उपस्थित थे। बैठक में लॉकडाउन के परिपे्रक्ष्य में लोगों को सहायता पैकेज देने के संबंध में निम्न निर्णय लिये गयेः-

  • सभी राशन कार्डधारी परिवारों को एक माह का राशन मुफ्त में दिया जायेगा।
  • सभी प्रकार के पेंशनधारियों (मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन, दिव्यांग पेंशन, विधवा पेंशन, वृद्धावस्था पेंशन) को अगले तीन माह की पेंशन अग्रिम तौर पर तत्काल दी जायेगी। यह राशि उनके खाते में सीधे अंतरित की जायेगी।
  • लॉकडाउन क्षेत्र के सभी नगर निकाय क्षेत्रों एवं प्रखंड मुख्यालय की पंचायत में अवस्थित सभी राशन कार्डधारी परिवारों को एक हजार रूपये प्रति परिवार दिया जायेगा। यह राशि डी0बी0टी0 के माध्यम से उनके खाते में अंतरित की जायेगी।
  • वर्ग 1 से 12 के सभी छात्र/छात्राओं को देय छात्रवृति 31 मार्च 2020 तक उनके खाते में दे दी जायेगी।
  • सभी चिकित्सकों एवं स्वास्थ्यकर्मियों को एक माह के मूल वेतन के समतुल्य प्रोत्साहन राशि दी जायेगी।
  • मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों से अनुरोध करते हुए कहा है कि लॉकडाउन के संबंध में राज्य सरकार द्वारा जारी की गयी सलाह का अनुपालन करें। आपके सहयोग से ही इस महामारी से निपटने में सफलता मिलेगी।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी की अनोखी पहल, जानें इस विपदा में क्या है उनके पहल