गुरूवार, फ़रवरी 22, 2024
होमराष्ट्रीयलॉकडाउन की अवधि 3 मई तक बढ़ी, प्रधानमंत्री मोदी द्वारा सात बातों...

लॉकडाउन की अवधि 3 मई तक बढ़ी, प्रधानमंत्री मोदी द्वारा सात बातों की अपील

21 दिन के देशव्यापी लॉकडाउन के आखिरी दिन मंगलवार को सुबह 10 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को संबोधित किया। कोरोना महामारी से मुकाबले के लिए लॉकडाउन के दूसरे चरण को 3 मई तक बढ़ा दिया। पीएम इस बात का संकेत पहले ही दे चुके थे कि अब देश ‘जान भी, जहान भी’ के मंत्र के साथ आगे बढ़ेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की आर्थिक दृष्टि से देश को भरी नुकसान उठाना पड़ रहा है, लेकिन लोगों के सुरक्षा के यह लॉक डाउन बढ़ाना आवश्यक है। अगर सिर्फ आर्थिक दृष्टि से देखें तो अभी ये मंहगा जरूर लगता है लेकिन भारतवासियों की जिंदगी के आगे, इसकी कोई तुलना नहीं हो सकती।

लॉकडाउन 3 मई तक, भारत कि चर्चा आज दुनिया भर में

उन्होंने आगे कहा कि सीमित संसाधनों के बीच, भारत जिस मार्ग पर चला है, उस मार्ग की चर्चा आज दुनिया भर में हो रही है। अगर भारत ने यह इंटीग्रेटेड एप्रोच न अपनाई होती, तेज फैसले न लिए होते तो आज भारत की स्थिति कुछ और होती। लेकिन बीते दिनों के अनुभवों से ये साफ है कि हमने जो रास्ता चुना है, वो सही है। प्रधानमंत्री ने कहा “मेरी सभी देशवासियों से ये प्रार्थना है कि अब कोरोना को हमें किसी भी कीमत पर नए क्षेत्रों में फैलने नहीं देना है। स्थानीय स्तर पर अब एक भी मरीज बढ़ता है तो ये हमारे लिए चिंता का विषय होना चाहिए।” इसलिए हमें आगामी 3 मई तक लॉक डाउन का सख्ती से पालन करना होगा।

हॉटस्पॉट वाले जगहों पर अधिक कड़ाई

इस लॉक डाउन के दौरान और अधिक सतर्कता बरतने के लिए आग्रह करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की हॉटस्पॉट वाले जगहों पर और अधिक कड़ाई बरती जायेगी। हालांकि 20 अप्रैल से सावधानी बरतते हुए कुछ जगहों पर सीमित छूट भी दिया जाएगा। उन्होंने कहा की यह छूट देश के गरीब परिवारों के लिए किया गया है। वैसे दैनिक मजदूर को केंद्र सरकार सरकार कि तरफ से मदद किया जा रहा है। रोज कमाने और खाने वाले लोगों के लिए व्यवस्था करने के उद्देश्य से यह सीमित छूट दिया गया है।

वैज्ञानिकों का दावा, कुछ हफ्तों में खुद खत्म हो जाएगा कोरोना

युवा वैज्ञानिकों से निवेदन

प्रधानमंत्री मोदी ने लॉकडाउन कि अवधि को 3 मई तक बढ़ाते हुए बताया कि हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर के मोर्चे पर भी हम तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। जहां जनवरी में हमारे पास कोरोना की जांच के लिए सिर्फ एक लैब थी, वहीं अब 220 से अधिक लैब्स में टेस्टिंग का काम हो रहा है। उन्होंने आगे देश के युवा वैज्ञानिकों से निवेदन करते हुए कहा आज भारत के पास भले सीमित संसाधन हों, लेकिन मेरा भारत के युवा वैज्ञानिकों से विशेष आग्रह है कि विश्व कल्याण के लिए, मानव कल्याण के लिए, आगे आएं, कोरोना की वैक्सीन बनाने का बीड़ा उठाएं।

हम धैर्य बनाकर रखेंगे, नियमों का पालन करेंगे तो कोरोना जैसी महामारी को भी परास्त कर पाएंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने 7 बातों में साथ मांगते हुए देश के लोगों से अपील कि जो निम्न हैं:

  • अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें, विशेषकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें पुरानी बीमारी हो, उनकी हमें एक्स्ट्रा केयर करनी है, उन्हें कोरोना से बहुत बचाकर रखना है।
  • लॉकडाउन और सोशल डिस्टन्सिंग की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह पालन करें, घर में बने फेसकवर या मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें।
  • अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए, आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें, गर्म पानी, काढ़ा, इनका निरंतर सेवन करें।
  • लोगों से अपील करते हुए कहा कि संक्रमण कि जानकारी के लिए के लिए आरोग्य सेतु एप्प जरूर डाउनलोड करें और अन्य लोगों से भी इस अप्प को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें।
  • आर्थिक रूप से संपन्न लोगों से निवेदन करते हुए उन्होंने कहा कि जितना हो सके उतने गरीब परिवार की देखरेख करें, उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें।
  • आप अपने व्यवसाय, अपने उद्योग में अपने साथ काम करे लोगों के प्रति संवेदना रखें, किसी को नौकरी से न निकालें।
  • देश के कोरोना योद्धाओं, हमारे डॉक्टर- नर्सेस, सफाई कर्मी-पुलिसकर्मी का पूरा सम्मान करें।

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular