सोमवार, फ़रवरी 26, 2024
होमबिहारअशोक राजपथ पर एनआइटी तक फोरलेन एलिवेटेड सड़क का रास्ता साफ़

अशोक राजपथ पर एनआइटी तक फोरलेन एलिवेटेड सड़क का रास्ता साफ़

पटना में अशोक राजपथ पर यातायात के बढ़ते दबाव को देखते हुए सरकार ने एनआइटी तक फोरलेन एलिवेटेड सड़क निर्माण की अनुमति दी है। सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में एक अणो मार्ग स्थित संकल्प में पथ निर्माण विभाग की महत्वपूर्ण योजनाओं की समीक्षा की गई। इस दौरान मुख्यमंत्री विभाग की ओर से सड़क निर्माण से संबंधित योजनाओं का प्रजेंटेशन भी दिखाया गया।

पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा ने सरकार को बताया कि अशोक राजपथ पर यातायात का दबाव दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है। जिसे देखते हुए पीएमसीएच से कृष्णा घाट होते हुए एनआइटी तक फोरलेन एलिवेटेड सड़क निर्माण की अनुमति दी गई है। इस योजना पर 315 करोड़ रुपये की लागत आएगी। प्रधान सचिव ने जानकार दी कि इस फोर लेन सड़क में चार लेन ग्राउंड पर होंगे जबकि चार लेन एलिवेटेड। कृष्णा घाट पर इस सड़क को गंगा पथ से संपर्कता दी जाएगी। इस सड़क के निर्माण से पीएमसीएच और पटना विश्वविद्यालय के साथ अशोक राजपथ और उससे आगे जाने वाले पूर्वी इलाके के लोगों को काफी सहूलियत हो जाएगी।

दीघा से नया गांव तक नए फोर लेन पुल

समीक्षा के दौरान जेपी सेतु के बगल में दीघा से नया गांव तक नए फोर लेन पुल के एलाइनमेंट पर भी चर्चा हुई। मुख्यमंत्री ने इस परियोजना के डीपीआर को अंतिम रूप जल्द से जल्द देने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि पटना में गंगा नदी पर जेपी सेतु के समानांतर पुल से भी लोगों को काफी सहूलियत होगी। बाहर से पटना पश्चिम के इलाके में आने वाले लोगों को लिए भी यह पुल सुविधाजनक होगा।

कंकड़बाग में यातायात की सुगमता के लिए एलिवेटेड पथ : इसी क्रम में चिरैयाटांड पुल, कंकड़बाग में यातायात की सुगमता के लिए एलिवेटेड पथ निर्माण के प्रस्ताव पर चर्चा की गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि बढ़ती भीड़ को देखते हुए चिरैयाटांड पुल से कंकड़बाग कॉलोनी के लिए एलिवेटेड पुल का निर्माण भी उपयोगी होगा। उन्होंने बैठक में एम्स-दीघा एलिवेटेड रोड, कच्ची दरगाह-विशुनपुर 6 लेन पथ, गंगा पथ परियोजना, बख्तियारपुर-ताजपुर पुल, आर ब्लॉक-दीघा पथ और बिहटा सरमेरा पथ निर्माण की प्रगति की भी समीक्षा की और निर्देश दिए कि सभी परियोजनाओं को जल्द से जल्द पूरा कराया जाए।

विष्णुपद मंदिर से सीता कुंड तक लक्ष्मण झूला

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में पथ निर्माण विभाग की समीक्षा में गया के विष्णुपद मंदिर से सीता कुंड तक लक्ष्मण झूला के डिजाइन को स्वीकृति दी गई। विष्णुपद मंदिर से सीता कुंड तक बनने वाले लक्ष्मण झूला की विस्तृत कार्य योजना पुल निर्माण निगम ने तैयार की है। इसके निर्माण पर 60 करोड़ रुपये की लागत आएगी। मुख्यमंत्री ने कहा लक्ष्मण झूला बनने से भक्तों और आमजन को काफी सहूलियत होगी। इस ब्रिज पर वाहन नहीं चलेंगे। यह ब्रिज सिर्फ पैदल चलने वाले लोगों के लिए होगा। समीक्षा बैठक में पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव, मुख्यसचिव दीपक कुमार, अरुण कुमार, अमृत लाल मीणा, संजय कुमार, एस सिद्धार्थ, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव मनीष कुमार वर्मा के साथ ही दूसरे पदाधिकारी मौजूद रहे।

कामेश्वर पांडेय हत्याकांड

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular