गुरूवार, फ़रवरी 29, 2024
होमबिहारक्या है बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण का हाल, सर्विलांस पर लिए...

क्या है बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण का हाल, सर्विलांस पर लिए गए 114 संदिग्ध

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि के लिए प्रदेश में गुरुवार से शुक्रवार के बीच एक दिन में स्वास्थ्य विभाग ने 114 नए संदिग्धों को सर्विलांस पर लिया है। इन सभी लोगों को 14 दिनों के आइसोलेशन में भेजा गया है। इसके साथ ही चार और लोगों के ब्लड सैंपल जांच के लिए आरएमआरआइ भेजे गए हैं।

गुरुवार तक स्वास्थ्य विभाग ने कुल 390 लोगों को सर्विलांस पर लिया था। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार एक दिन में जिन 114 लोगों को सर्विलांस पर लिया गया है उनमें से अधिकांश यात्री हैं जिन्होंने नेपाल के रास्ते या फिर गया एयरपोर्ट से बिहार में प्रवेश किया है। इन 114 लोगों की स्क्रीनिंग के दौरान इन्हें संदिग्ध माना गया। जिसके बाद इन्हें सर्विलांस पर लेकर 14 दिनों के आइसोलेशन में भेजा गया है।

पूर्व से जो 390 लोग सर्विलांस पर थे उनमें से चार लोगों के सैंपल जांच के लिए आरएमआरआइ भेजे गए हैं। गुरुवार तक 75 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 74 की रिपोर्ट निगेटिव है। प्रदेश के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा कि किसी को पैनिक नहीं होना चाहिए। अब तक बिहार में कोरोना का एक भी संक्रमित केस सामने नहीं आया है।

लोकल ट्रेन से सचिवालय आने वाले कर्मियों की सूची बनायी

कोरोना वायरस के संक्रमण को केंद्र में रख बिहार में सचिवालय व पुलिस मुख्यालय सहित विभिन्न सरकारी दफ्तरों में लोकल ट्रेन से आने वाले कर्मियों की सूची तैयार करायी है सामान्य प्रशासन विभाग ने। मुख्य सचिव के निर्देश पर यह सूचना जुटायी गयी है। सामान्य प्रशासन विभाग से मिली आधिकारिक जानकारी के अनुसार पुलिस महानिदेशक, सभी अपर मुख्य सचिव, प्रधान सचिव व सचिवों कार्यालयों को इस बारे में पत्र भेजा गया था। सूची तैयार हो गयी है।

सचिवालय में तैनात बड़ी संख्या में कर्मी पूरब में पटना साहिब होते हुए मोकामा तक और फिर पश्चिम में आरा से आगे से प्रतिदिन पटना पहुंचते हैं। लोकल ट्रेनों में काफी भीड़ रहती है क्योंकि सामान्य तौर पर वह सभी स्टेशन व हॉल्ट आदि पर रुकती है। काफी भीड़भाड़ से गुजरकर सचिवालयकर्मी कई लोगों से संपर्क में आते हैं। संक्रमण के लिहाज से यह उचित नहीं। ऐसा संभव है कि सरकार लोकल ट्रेन से सचिवालय व अन्य सरकारी दफ्तरों में पहुंचने वाले कर्मियों के बारे में कोई निर्णय ले सकती है।

राज्यपाल फागू चौहान ने की सावधानी बरतने की अपील

प्रदेश के राज्यपाल फागू चौहान ने राज्य की जनता से कोरोना वायरस से बचने के लिए भरपूर सावधानी और संयम बरतने की अपील की है। उन्होंने कहा कि विश्व स्तर पर महामारी का रूप ले चुके कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों तथा प्रमुख मान्यता प्राप्त स्वास्थ्य संगठनों के सुझाव पर अमल किया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कल रात प्रसारित हुए राष्ट्र के नाम संदेश में निहित प्रमुख बातों का गंभीरता से पालन होना चाहिए।

राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देशवासियों से 22 मार्च की सुबह से रात तक जनता कफ्यरू के पालन का आह्वान किया है। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि लोग जनता कफ्यरू का हिस्सा बनें और प्रधानमंत्री के निर्देशानुसार अपने घरों में ही रहें। शाम को पांच बजे ताली, थाली और घंटी बजाकर कोरोना से बचाव में लगे लोगों को प्रोत्साहित करें। दिशा निर्देशों का पालन कर हमलोग कोरोना वायरस से डटकर मुकाबल कर सकते हैं।

सिटी ऑफ लव बना यमराज का ठिकाना

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular