कोरोना वायरस महामारी को लेकर सीएम नीतीश कुमार की बिहार की जनता से अपील

0
686
bihar breaking news

कोरोना वायरस के खतरनाक कहर को देखते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राज्यवासियों से यह गुजारिश की है कि इस महामारी का डटकर मुकाबला करें और इसे हराएं। सीएम ने कहा कि कोरोना से पूरी मानव जाति को खतरा है इसलिए हमसब को मिलकर इससे लड़ना होगा। उन्होंने कहा कि उस खरनाकक वायरस से निपटने के लिए सावधानियां बरती जा रही हैं लेकिन इसकी गंभीरता को देखते हुए प्रत्येक नागरिक को सचेत रहने की जरुरत है। सीएम ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 22 मार्च को कर्फ्यू आह्वान को सराहनीय कदम बताया है।

सीएम नीतीश ने कहा कि हम सभी बिहारवासियों से यह अपील करते हैं कि वे 22 मार्च यानि आगामी रविवार को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक अपने घरों में रहकर जनता कर्फ्यू का पालन करें, और यदि संभव हो सके तो रात नौ बजे के बाद भी घर में ही रहें। क्योंकि हर व्यक्ति की सतर्कता ही कोरोना के संक्रमण से बचाव का उपाय है। इसका अनुभव ही हमें आनेवाली चुनौतियों के लिए तैयार करेगा।

सीएम ने कहा, व्यक्तिगत सतर्कता का रखे ध्यान

बता दें कि कोरोना से संबंधित तैयारियों के लिए आज 1 अणे मार्ग में समीक्षा बैठक रखी गयी थी। इस बैठक में सीएम, डिप्टी सीएमं, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे, मुख्य सचिव दीपक कुमार, पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय व पटना प्रमडलीय आयुक्त सह परिवहन मंत्री श्री संजय कुमार अग्रवाल भी इस बैठक में शामिल थे। मुख्यमंत्री इस वायरस से निपटने के लिए की तैयारियों का भी जायजा लिया।

 कोरोना को हराने के लिए कमर कस चुकी है सरकार

बैठक में मौजूद नेता और अधिकारियों ने वर्तमान परिस्थिति के हर पहलुओं पर चर्चा की, व प्रभावित देशों से आ रहे यात्रियों के सघन जांच की भी बात की। मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यक्तगत बचाव के लिए आवश्यक है कि किसी भी व्यक्ति से दो मीटर की दूरी बनाकर रखी जाए और अपने हाथों को 20 सेकेंड तक ठीक ढ़ंग से धोए। साथ ही खांसते समय मुंह पर रुमाल रखें। इसके अलावे सीएम ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग बिहार में कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए की जा रही व्यवस्था, कंट्रोल रुम नंबर और टोल फ्री नंबर से लोगों को अवगत कराया।

नीतीश कुमार अपनी बात खत्म करने से पहले लोगों को कहा कि राज्य सरकार इस वायरस से निपटने के लिए पूरी तरह से सतर्क है। आपलोगों को डरने की कोई जरुरत नहीं है। बस सरकार के बताए गए दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करें, अनावश्यक यात्रा से बचें और मेटलयुक्त सामग्रियों को छूने से परहेज करें।

सिटी ऑफ लव बना यमराज का ठिकाना