Thursday, June 20, 2024
Homeशिक्षा और नौकरीबिहार बोर्ड 10वीं 2020 का रिजल्ट मई तक आने की संभावना, कॉपी...

बिहार बोर्ड 10वीं 2020 का रिजल्ट मई तक आने की संभावना, कॉपी मूल्यांकन में देरी

बिहार बोर्ड के जिन छात्रों ने 10वीं बोर्ड 2020 का इग्जाम दिया था। उन्हें बड़ी ही उत्सुकता से रिजल्ट का इंतज़ार है। चूंकि BSEB बारहवीं का रिजल्ट पहले ही आ चुका है। ऐसे में 10वीं के बोर्ड इग्जाम दे चुके कैंडिडेट को भी उम्मीद है कि लॉक डाउन खत्म होने के हफ्ते भर में रिजल्ट जारी कर दिया जायेगा। हालांकि, इन कैन्डिडेट्स का इंतज़ार अभी और लंबा होने वाला है। विदित हो कि बिहार बोर्ड की नयी घोषणा के मुताबिक अभी तक कॉपी जांच की प्रक्रिया पूरी नहीं हुयी है, और कॉपी मूल्यांकन का काम 14 अप्रैल तक के लिए रोका जा चुका है। बोर्ड की इस घोषणा के बाद तो छात्रों को यह सुनिश्चित हो जाना चाहिए कि 10वीं के 2020 का रिजल्ट के इंतज़ार की घड़ी अभी और लंबी होने वाली है।

लॉकडाउन के वजह से कॉपी जांच रुकी

बता दें कि एक तरफ पूरे देश में कोरोना वायरस के प्रसार के चलते लगाये गये 21 दिनों के लॉक डाउन की अवधि 14 अप्रैल को समाप्त होने जा रही है, तो दूसरी तरफ लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने की भी मांग हो रही है। ऐसे में प्रश्न उठता है कि क्या बिहार 10वीं बोर्ड परीक्षा 2020 की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य 15 अप्रैल तक हो पाएगा? दूसरी तरफ, बिहार राज्य की कोरोना वायरस संक्रमण की अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर वर्तमान स्थिति को देखते हुए उम्मीद की जा सकती है कि 15 अप्रैल से 10वीं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन आरंभ किया सकता है।

बिहार बोर्ड के 10वीं परीक्षा के रिजल्ट में देरी

खबरों की मानें तो बिहार बोर्ड के दसवीं परीक्षा के परिणाम जारी होने में देरी हो सकती है। यदि यह माना जाए कि बोर्ड 15 अप्रैल से कॉपियों का मूल्यांकन शुरू कराता है तो इसमें कम से कम 10-12 दिन लग सकते हैं। इस प्रकार उम्मीद की जा सकती है कि बिहार मैट्रिक रिजल्ट 2020 की घोषणा अप्रैल के अंतिम सप्ताह में की जा सकती है। लेकिन यह समझने वाली बात है कि जिस तरह से महाराष्ट्र और दूसरे राज्यों में लॉकडाउन की अवधि 30 अप्रैल तक बढ़ा दी गई है, अगर बिहार में भी लॉकडाउन की तारीख बढ़ती है, तो 10वीं बोर्ड के रिजल्ट मई से पहले जारी होने की कोई संभावना नहीं दिख रही है।

बिहार बोर्ड (BSEB) 10वीं की रिजल्ट स्थगित, कॉपी मूल्यांकन में भी देर

कॉपियों की जांच 30 अप्रैल के बाद

उल्लेखनीय है कि बिहार बोर्ड द्वारा जारी अंतिम सूचना के मुताबिक 10वीं परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन पर 14 अप्रैल तक के लिए रोक लगा दी गयी थी। ऐसे में अगर लॉकडाउन बढ़ता है तो कॉपियों के मूल्यांकन की तारीख की बढ़ेगी। बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड के चेयरमैन के आनंद किशोर का भी कहना है कि अगर लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाया जाता है, तो 10वीं बोर्ड परीक्षा की कॉपियों की जांच 30 अप्रैल के बाद ही शुरू हो पाएगी। ऐसे में कक्षा 10वीं के रिजल्ट 30 मई से पहले जारी नहीं किए जा सकते हैं। बिहार बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा, “शिक्षकों को घर पर 10वीं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसी के साथ अप्रैल-मई 2020 से एक नया शैक्षणिक वर्ष शुरू करने वाले छात्रों के बारे में अभी तक कोई कदम नहीं उठाया गया है।

गौरतलब है कि 10वीं बोर्ड की कॉपियों का मूल्यांकन का कार्य 7 मार्च को आरंभ हुआ था, लेकिन कोरोना वायरस के कहर को देखते हुये इसे 14 अप्रैल तक के लिए रोक दिया गया था। 10वीं के रिजल्ट को लेकर अभी लगातार अस्मंजस की स्थिति बनी रहेगी. ऐसे में 10वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम 2020 का इंतजार कर रहे छात्रों को ध्यान देना चाहिए कि रिजल्ट और अंक पत्र से सम्बन्धित अपडेट बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट, Biharboardonline.bihar.gov.in, onlinebseb.in पर ही जारी होगा, इसलिए छात्रों को बोर्ड की वेबसाइट से अपडेट रहना चाहिए।

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES

अन्य खबरें