कोरोना वायरस: भारत ने चीन से आने वाले यात्रियों पर लगाई रोक, हवाई सेवा निलंबित

0
कोरोना वायरस: भारत ने चीन से आने वाले यात्रियों पर लगाई रोक, हवाई सेवा निलंबित
कोरोना वायरस: भारत ने चीन से आने वाले यात्रियों पर लगाई रोक, हवाई सेवा निलंबित

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सरकार ने तत्काल प्रभाव से चीन से यात्रियों के भारत आने पर रोक लगा दी है। दूसरे देश की एयरलाइंस भी चीन से किसी भी यात्री को भारत नहीं ला सकेंगी। चीन से आने वाले यात्रियों के लिए जारी सभी तरह के वीजा को भी अवैध घोषित कर दिया गया है। वहीं, एयर इंडिया ने दिल्ली-हांगकांग के बीच विमान सेवा को आठ फरवरी से निलंबित करने का फैसला किया है। चीन में कोरोना वायरस से अब तक 425 लोगों की मौत हो चुकी है और 20,000 से ज्यादा लोग संक्रमित पाए गए हैं।

गृह मंत्रालय के आव्रजन ब्यूरो के कोलकाता दफ्तर ने इस संबंध में पत्र जारी किया है। पत्र में सरकार ने सभी एयरलाइंस से कहा है कि वो चीन से चीनी या विदेशी नागरिकों को भारत के किसी भी स्थान के लिए न बिठाएं, भले ही यात्रियों के पास वैध वीजा ही क्यों न हो। पत्र में कहा गया है कि यह आदेश तत्काल प्रभाव से और अगले आदेश तक लागू रहेगा।

चीन में भारतीय दूतावास ने एलान किया है कि अभी तक जारी नियमित और ई-वीजा को रद कर दिया गया है और लोगों को नए सिरे से वीजा के लिए आवेदन करना होगा। जो लोग 15 जनवरी के बाद नियमित या ई-वीजा पर भारत गए हैं उन्हें भारतीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से संपर्क करने को कहा गया है।

वहीं, एयर इंडिया के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक अश्विनी लोहानी ने मंगलवार को ट्वीट कर बताया कि आठ फरवरी से हांगकांग के लिए विमान सेवा को निलंबित करने का फैसला किया है। हांगकांग के लिए एयर इंडिया की आखिरी फ्लाइट सात फरवरी को उड़ान भरेगी।

चीन में हालात बेकाबू अब अमेरिकी विशेषज्ञों की लेगा मदद

कोरोना वायरस को लेकर हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। इससे निपटने के लिए वह अमेरिका की भी मदद लेगा। चीन में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 20 हजार के पार पहुंच गई है। जबकि अब तक इससे 425 मौत हो चुकी हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति भवन ह्वाइट हाउस के अनुसार, ‘चीन ने अपने हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान से फैले वायरस से मुकाबले में मदद के लिए अमेरिकी प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है। उधर, कोरोना वायरस के संक्रमण के डर से जापान ने मेडिकल जांच पूरी होने तक हांगकांग से आए एक क्रूज पर सवार 3700 लोगों के नीचे उतरने पर पाबंदी लगा दी है।

चीन से लौटे पांच लोग कैंप से सफदरजंग अस्पताल शिफ्ट

आइटीबीपी के छावला कैंप में बने विशेष मेडिकल शिविर में रखे गए चीन से लौटे पांच लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाने पर सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, चीन से ही लाए गए और सेना के मानेसर कैंप से बेस अस्पताल में भर्ती कराए गए अन्य पांच लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है।

जबकि, तेलंगाना में कोरोना वायरस जैसे लक्षण पाए जाने पर और दो लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। राज्य में अब तक संदिग्धों की संख्या 21 हो गई है। उधर, उत्तर भारत में कोरोना वायरस को लेकर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। चीन से आने वाले लोगों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। उप्र में कुल 354 संदिग्धों की पहचान होने के बाद उन्हें उनके ही घर में पूरी सतर्कता के साथ रखे जाने की व्यवस्था की है।

कोरोना वायरस से चीन के बाहर हुई पहली मौत

India Temporarily Suspends Online Visa For Chinese Citizens And Foreigners Living In China

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here