28.6 C
Patna
Tuesday, May 11, 2021
Homeपॉलिटिक्सशराबबंदी पर बढ़ रही बिहार सरकार में तकरार, एनडीए नेता आमने सामने

शराबबंदी पर बढ़ रही बिहार सरकार में तकरार, एनडीए नेता आमने सामने

पटना। बिहार में सुशासन, शराबबंदी और लॉ एंड आर्डर की पोल खोलने के लिए विपक्ष की जरूरत नहीं पड़ रही है। भाजपा के एक और सांसद ने सरकार के शराबबंदी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पुलिस के कारनामों से नाराज सांसद थाने पर धरना देने पहुंच गये। उनका आरोप है कि नकारा पुलिस शराबबंदी के नाम पर मोटी धन उगाही कर रही है। खुलेआम शराब बिक रही है और पुलिस निर्दोष लोगों को जेल भेज रही है।

मामला औरंगाबाद का है। औरंगाबाद से भाजपा सांसद सुशील कुमार सिंह शनिवार की देर शाम अपने क्षेत्र में रफीगंज थाने के सामने धरना पर बैठ गये। उनके साथ भाजपा के विधान पार्षद राजन कुमार सिंह और पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ता भी धरना पर बैठ गये। सांसद पुलिस पर आग बबूला थे। उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार की पुलिस नाकारा और घूसखोर हो गयी है। खुलेआम शराब बिक रही है और पुलिस पैसा उगाही में लगी है। सांसद ने खुद को प्रत्यक्षदर्शी बताते हुए कहा कि थानाध्यक्ष खुद अपने क्षेत्र में शराब बिकवा रहा है।

शराबबंदी पर सांसद सुशील कुमार सिंह का धरना

दरअसल, सांसद सुशील कुमार सिंह भाजपा कार्यकर्ता शिवनारायण साव को गिरफ्तार करने पर नाराज थे। रफीगंज थाना पुलिस ने शराब पीने और रास्ता जाम करने के आरोप में भाजपा कार्यकर्ता शिवनारायण साव, डाकबंगला निवासी गुडडू चौधरी और माड़ीपुर निवासी देवनन्दन राम को गिरफ्तार किया था। तीनों को देर रात थाने से ही जमानत पर छोड़ दिया गया। आरोप है कि हिरासत में पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ता शिवनारायण साव की जमकर पिटाई भी की। इससे भाजपा कार्यकर्ता नाराज हो गये और उन्होंने थाना के मुख्य दरवाजे के सामने पुलिसिया करतूतों के खिलाफ धरना शुरू कर दिया।

सांसद सुशील कुमार सिंह भी इसी धरना में शामिल होने पहुंचे थे। उन्होंने धरना के दौरान ही अपनी पार्टी के कार्यकर्ता शिवनारायण साव के बदन पर पुलिस की पिटाई से चोट के निशान भी दिखाये। सांसद ने पुलिस की बर्बर पिटाई की घोर निंदा की। सुशील कुमार सिंह ने कहा कि पुलिस ने जिस व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, उसने जिंदगी में कभी शराब पी ही नहीं। सांसद ने आरोप लगाया कि डॉक्टर ने भी पुलिस के दबाव में आकर बगैर ब्रेथ एनेलाइजर के अल्कोहल की पुष्टि कर दी। उन्होंने डॉक्टर के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की है।

छानबीन करायेंगे एसपी सुधीर कुमार

सांसद के गंभीर आरोपों के बाद औरंगाबाद के एसपी सुधीर कुमार पोरिका ने मामले की जांच के आदेश दिये हैं। एसपी ने बताया कि इस मामले में सांसद की ओर से मेमोरेंडम दिया गया है। मामले की जांच एसडीपीओ को सौंपी गयी है। उनकी जांच रिपोर्ट आने के बाद उचित कार्रवाई की जायेगी।

बिहार का सबसे बड़ा कोरोना वैक्सीन सेंटर तैयार, स्टोर किए जा सकते हैं 35 लाख डोज
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments