समाजवादी जनता दल और ओवैसी की पार्टी एक साथ लड़ेगी बिहार विधानसभा चुनाव

0
1053
bihar breaking news

समाजवादी जनता दल बिहार चुनाव से एक बार फिर सक्रिय हो गयी है। झंझारपुर से चार बार लोकसभा सदस्य रहे देवेंद्र प्रसाद यादव द्वारा बिहार में तीसरे मोर्चे के गठन के लिए वर्ष 2010 में समाजवादी जनता दल डेमोक्रेटिक का गठन किया था। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष देवेंद्र प्रसाद यादव बाद में लालू यादव का साथ छोड़ने के बाद पार्टी का विलय करके जनता दल (यूनाइटेड) में फिर से शामिल हो।

समाजवादी जनता दल का एआईएमएम से गठबंधन

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमएम और SJD पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष देवेंद्र प्रसाद यादव आगामी विधानसभा के चुनाव की तैयारी में जुट गए है। बिहार में चुनाव से पहले एक और गठबंधन, पूर्व सांसद देंवेंद्र यादव और असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी में हुआ जिसका नाम UDSA (यूनाइटेड डेमोक्रेटिक सेक्युलर एलायंस) गठबंधन दिया गया।

आज मीडिया से मुखातिब होते हुए समाजवादी जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष देवेंद्र यादव ने कहा है कि बिहार में विपक्ष अपना कतर्व्य ठीक ढंग से नहीं निभा रही है। उन्होंने सत्ता पक्ष और विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि, बिहार में पिछले 30 वर्षों से चीन मिल, जुट मिल बंद पड़ा है। मजदूर पलायन कर रहे हैं, बिहार में बेरोजगार ज्यादा हैं और लोग दूसरे राज्य में रोजी रोटी के लिए जा रहे हैं। पूरे देश के किसानों में कहर मचा हुआ है, उनका हाल बेहाल है। ऐसे में सरकार आम लोगों के लिए कुछ भी नहीं कर रही।

बिहार चुनाव 20-20 के क्रिकेट पिच पर एंट्री मारने के बाद असदुद्दीन ओवैसी ने इशारों में सत्तारूढ़ नीतीश कुमार पर हमला बोला। ओवैसी ने कहा कि बिहार में उनकी पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर कई और पार्टियों से बात चल रही है। उन्होंने कहा कि जो भी हमें वोट काटने वाली पार्टी बता रहे हैं, लोकसभा में उनका क्या हश्र हुआ ये किसी से नहीं छुपा।

कौन हैं देवेंद्र प्रसाद यादव

देवेंद्र प्रसाद यादव 1977 से 1979 तक बिहार जनता पार्टी के सचिव रहे और फुलपरास से बिहार विधानसभा के लिए चुने गए, लेकिन कर्पूरी ठाकुर के लिए इस्तीफा दे दिया, जो बिहार के मुख्यमंत्री बने। बाद में वो बिहार विधान परिषद के लिए चुने गए और मई 1978 से नवंबर 1989 तक बने रहे। देवेंद्र प्रसाद यादव युवा लोक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी थे।

1989 से 1998 और 1999 से 2009 तक देवेंद्र प्रसाद यादव, झंझारपुर से संसद सदस्य रहे। देवेंद्र प्रसाद यादव ने जून 1996 में देवेगौड़ा मंत्रालय और गुजराल में वाणिज्य के अतिरिक्त प्रभार के साथ केंद्रीय खाद्य, नागरिक आपूर्ति, उपभोक्ता मामले और सार्वजनिक वितरण मंत्री के तौर पर कार्य किया।

देवेंद्र प्रसाद यादव ने राष्ट्रीय जनता दल छोड़ने के बाद समाजवादी जनता दल का गठन किया था, लेकिन जल्द ही उन्होंने अपनी पार्टी का विलय करके जनता दल (यूनाइटेड) में फिर से शामिल हो गए। कुछ दिनों तक वो समाजवादी पार्टी के बिहार प्रदेश के अध्यक्ष के रूप में भी काम किया है।

ये भी पढ़े: तेजस्वी यादव के नीतीश कुमार से 17 सवाल