मौत बन कर गिरी आकाशीय बिजली, बिहार में कई लोगों की मौत

0
755
bihar breaking news

बिहार में बारिश और आकाशीय बिजली गुरुवार को मौत बनकर आई। गुरुवार को राज्य में आकाशीय बिजली गिरने से 23 लोगों की मौत हो गई। ये मौतें राज्य के 6 जिलों में हुई हैं। ये मौतें गोपालगंज, मधुबनी, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, पूर्णिया और बांका जिलों में हुई। सबसे ज्यादा 13 मौत गोपालगंज जिले में हुई। वहीं इससे लगभग दर्जनों लोग झुलस गए।

गोपालगंज के उचकागांव में 4, मांझा में दो और विजयीपुर, कटेया व बरौली में एक-एक लोगों की मौत हुई है। प्रशासन का कहना है कि आकाशीय बिजली के कारण हुई मौत में अधिकतर लोग खेत में काम कर रहे थे। इस दौरान आकाशीय बिजली से झुलसे हुए लोगों का इलाज स्थानीय अस्पताल में चल रहा है। मरे हुए लोगों के शव को पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

आकाशीय बिजली और तेज बारिश की पहले ही दी गई है चेतावनी

[inline_posts type=”related” box_title=”” align=”alignleft” textcolor=”#000000″ background=”#cfcfcf”][/inline_posts]

इसके अलावा उत्तर बिहार में भी ठनका गिरने से मौत हुई है। यहां भी 4 लोगों की मौत हुई है। पूर्वी चंपारण में आकाशीय से एक बच्ची की मौत हो गई। वहां आकाशीय बिजली से दो और लोगों की मौत हुई है। इसके अलावा बेतिया जिले एक ही पंचायत के दो लोगों की मौत ठनका गिरने से हुई है। जबकि मधुबनी में आकाशीय बिजली से पति पत्नी की मौत हुई है। बताया जाता है कि वो दोनों ही खेतों में काम कर रहे थे।

मौसम विभाग ने 24 से 26 जून के बीच उत्तर बिहार के दरभंगा, मधुबनी, सीतामढ़ी व किशनगंज जिले में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। 27 से 29 जून के बीच मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, दरभंगा, वैशाली, पूर्वी चंपारण, सहरसा और सीवान में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी कर रखा है। इस दौरान 12 किमी की रफ्तार से पुरवा हवा चलाने की संभावना भी व्यक्त की है। आपातकालीन स्थिति के लिए जिला प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर 06452-239025 और 06452-239026 जारी किया है। नियंत्रण कक्षों को 24 घंटे चालू रखने को कहा गया है।