बिहार लेटेस्ट न्यूज़: लॉकडाउन में आज से बिहार में किन चीज़ों पर होगी छूट

0
1206
bihar breaking news

लॉकडाउन के दौरान कोरोना से बचाव के उपायों के आकलन के आधार पर सोमवार से बिहार में कुछ छूट के साथ कई काम शुरू हो जाएंगे। फिजिकल डिस्टेंसिंग की शर्तो के साथ ग्रामीण क्षेत्रों की सारी दुकानें खुलेंगी। खेती-बारी, निर्माण और रोजी-रोजगार से जुड़े काम फिर से पटरी पर आ जाएंगे। बाढ़ प्रबंधन एवं सड़क निर्माण की योजनाएं भी शुरू हो जाएंगी। एनएच एवं एसएच पर ढाबे और रेस्टोरेंट भी खुल जाएंगे। दुकानें शाम छह बजे तक ही खुली रहेंगी। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने रविवार को सभी जिलों के डीएम-एसपी को निर्देश दिया है कि नगर निकायों की सीमा से बाहर सभी तरह के निर्माण कार्यो में प्रयोग होने वाली सामग्रियों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए हार्डवेयर, सीमेंट, छड़, बालू और अन्य तरह की सामग्रियों की दुकानों पर प्रतिबंध नहीं होगा।

सरकार ने यह भी साफ कर दिया कि उद्योगों और खेती के लिए मजदूर स्थानीय स्तर पर जुटाने होंगे और मजदूरों को एक-से-दूसरे राज्य में जाने की इजाजत नहीं होगी। लॉकडाउन से छूट के बावजूद देश में सभी राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय उड़ानें, रेलवे, सार्वजनिक परिवहन, टैक्सी, ऑटो, रिक्शा, बस और मेट्रो पूरी तरह बंद रहेंगे। एक राज्य से दूसरे राज्य ही नहीं, एक जिले से दूसरे जिले के बीच आवाजाही भी प्रतिबंधित रहेगी। सिनेमा हॉल, मॉल, शापिंग कांप्लेक्स, जिम, खेल गतिविधियां, स्वीमिंग पूल, थियेटर, बार और सभी शैक्षिक संस्थान पूरी तरह बंद रहेंगे। किसी भी तरह की धार्मिक और राजनीतिक गतिविधि के लिए एक साथ एकत्रित होने पर प्रतिबंध जारी रहेगा।

बिहार लॉकडाउन छूट: उद्योग-धंधे के दरवाजे भी खुल जाएंगे

प्रदेश में छोटे-बड़े ढाई हजार उद्योग-धंधों के दरवाजे खुल जाएंगे। स्थानीय कामगारों को ही तरजीह दी जाएगी। शर्त रहेगी कि फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित हो। सैनिटाइजेशन का भी पुख्ता प्रबंध हो। रोजी-रोटी का जुगाड़ का अवरोध हटेगा। मनरेगा के तहत काम होने लगेंगे। बाहर से आए मजदूरों को मनरेगा से जोड़ा जाएगा। फूड प्रोसेसिंग, जूट उद्योग, अलकतरा को लेकर आदेश जारी कर दिया गया है।

लॉकडाउन के दौरान मालवाहक वाहनों के मेंटेनेंस के लिए हाईवे पर गैराज और शहर में स्पेयर पार्ट्स की दुकानें खोली जाएंगी। क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में लिए गए निर्णय के बाद परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने सभी जिलों के डीएम और एसएसपी/एसपी को निर्देश जारी कर दिया है।

परिवहन सचिव ने बताया कि मालवाहक वाहनों की मरम्मत हेतु स्पेयर पार्ट्स की आवश्यकता होगी। ऑटो मोबाइल दुकान संघ से वार्ता कर प्रत्येक जिले में रोस्टर निर्धारित कर प्रतिदिन अधिकतम दो स्पेयर पार्ट्स की दुकानों को खोलने की अनुमति दी जाएगी । उन्होंने कहा है कि पटना के लिए पांच दुकानों और अन्य जिलों के लिए दो-दो दुकानें खोलने की अनुमति दी गई है। इसी तरह टायर दुकानें भी खुलेगी।

बिहार के मजदूरों के लिए खुशखबरी, सरकार द्वारा काम शुरू करने की इजाजत

सुशील मोदी ने ट्वीट कर दी जानकारी

उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि राज्य में तीन हजार उद्योगों को शर्तो के साथ सोमवार से चलाने की अनुमति दी जा रही है। इनमें नौ सौ से ज्यादा ग्रामीण इलाकों में हैं। रविवार को उन्होंने ट्वीट करके कहा कि सिंचाई, हरियाली मिशन और मनरेगा से जुड़े मजदूर भी काम पर जा सकेंगे। इसके लिए प्रशासनिक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं, ताकि किसी को बेवजह परेशान न होना पड़े। उन्होंने लिखा लॉकडाउन के दौरान सरकार ने फ्लिपकार्ट जैसी ई-कामर्स कंपनियों को केवल जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति करने की अनुमति दी है। टीवी, फ्रिज जैसे इलेक्ट्रानिक सामान बेचने के लिए इसका दुरुपयोग नहीं किया जा सकता है। सरकार ने स्थानीय खुदरा व्यापारियों के हितों का पूरा ध्यान रखकर ही यह फैसला किया है।