बुधवार, फ़रवरी 28, 2024
होमबिहारमैट्रिक-इंटर के अभयर्थियों के लिए बुरी खबर, करियर अधर में, जानें क्या...

मैट्रिक-इंटर के अभयर्थियों के लिए बुरी खबर, करियर अधर में, जानें क्या है पूरा मामला

नियोजित शिक्षक हड़ताल पर तो थे ही, अब 25 फरवरी यानि आज से राज्य के 6 हजार से अधिक हाई स्कूलों के लगभग 40 हजार शिक्षक हड़ताल पर जा रहे हैं। यही नहीं बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ ने कहा है कि हड़ताल के दौरान मैट्रिक-इंटर की कॉपियां भी शिक्षक नहीं जांचेंगे। शिक्षकों का आरोप है कि पुनरीक्षित वेतनमान से माध्यमिक शिक्षकों का वेतन प्राथमिक शिक्षकों से भी कम हो गया है।

बता दें कि इस साल समय से मैट्रिक-इंटर की परीक्षा समय पर समाप्त हो गयी, बावजूद इसके ऐसा लग रहा है कि परीक्षा का रिजल्ट समय पर नहीं आ पायेगा। कारण यह कि आज से राज्य के 6 हजार से अधिक हाई स्कूलों के लगभग 40 हजार शिक्षक नियोजित शिक्षक हड़ताल पर जा रहे हैं।

बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ ने कहा है कि हड़ताल के दौरान मैट्रिक-इंटर की कॉपियां भी शिक्षक नहीं जांचेंगे। शिक्षकों का आरोप है कि पुनरीक्षित वेतनमान से माध्यमिक शिक्षकों का वेतन प्राथमिक शिक्षकों से भी कम हो गया है। विभिन्न मांगों को लेकर शिक्षकों ने आंदोलन तेज कर दिया। इसको लेकर बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक बुलाई गई। अध्यक्ष अखिलेश कुमार ने कहा कि संघ से जुड़े शिक्षक इंटर की कॉपियों का मूल्यांकन नहीं करेंगे।

गौरतलब है कि सोमवार को मैट्रिक की परीक्षा खत्म हो चुकी है। इंटर की परीक्षा पहले ही समाप्त हो चुकी है। अब इन कॉपियों का मूल्यांकन होना है। इंटर की परीक्षा की कॉपियों का मूल्यांकन 26 फरवरी से शुरू होना है, लेकिन शिक्षकों की हड़ताल की वजह से इस पर असर पड़ सकता है। विभिन्न मांगों को लेकर शिक्षकों ने आंदोलन तेज कर दिया। इसको लेकर बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक बुलाई गई। अध्यक्ष अखिलेश कुमार ने कहा कि संघ से जुड़े शिक्षक इंटर की कॉपियों का मूल्यांकन नहीं करेंगे।

नहीं चलेगी सरकार की मनमानी, शिक्षकों का निलंबन वापस लिया जाए

सचिव डॉ. सत्यजीत कुमार ने कहा कि 24 फरवरी को संघ भवन से स्टेशन चौक तक मशाल जुलूस निकाला गया। 25 को माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूलों में तालाबंदी कर धरना दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसी भी कीमत पर सरकार की मनमानी नहीं चलेगी।

बिहार पंचायत-नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ की बैठक सैंडिस कंपाउंड में हुई। संघ के अध्यक्ष पूरण कुमार ने कहा कि जिले के चार शिक्षकों को निलंबित करने का निर्णय प्रशासन ने लिया है। इन शिक्षकों के साथ संघ खड़ा है। शिक्षकों के निलंबन का निर्णय वापस लिया जाए। बैठक में शिवाजी, नवल किशोर मंडल, राजेंद्र प्रसाद यादव, रंजीत रजक, सुलेखा कुमारी, योगेश रजक, अनिल कुमार, सियाराम यादव, पुष्कर कुमार, निर्भय झा, दिलीप कुमार सिंह सहित कई शिक्षक थे।

अभयार्थियों के हो-हंगामें के बीच दारोगा मेंस परीक्षा की तिथि हुयी घोषित

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular