गुरूवार, फ़रवरी 29, 2024
होमशिक्षा और नौकरीबिहार में 8वीं पास युवाओं के लिए खुशखबरी, ले सकते हैं ITI...

बिहार में 8वीं पास युवाओं के लिए खुशखबरी, ले सकते हैं ITI का प्रशिक्षण

बिहार राज्य के आठवीं पास बेरोजगार युवा भी अब प्लम्बर, वेल्डर, ड्रेस मेकिंग, कारपेंटर, पेंटर आदि का प्रशिक्षण ले सकते हैं। अभी तक दसवीं पास युवाओं को इसका प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण एवं महानिदेशालय ने इस बाबत सभी सरकारी व प्राइवेट औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (ITI) को आठवी की योग्यता पर नामांकन लेने को कहा है।

अगस्त 2020 से होगा प्रभावी

महानिदेशालय का यह आदेश इसी साल से शुरू होने वाले सत्र अगस्त 2020 से प्रभावी होगा। आईटीआई में कुछ ऐसे प्रशिक्षण कोर्स हैं जिसमें अभी दसवीं पास युवाओं को ही प्रशिक्षण लेने का मौका मिलता है। दिसम्बर में केंद्र सरकार के साथ सभी राज्यों की बैठक हुई। कई राज्यों ने केंद्र सरकार से अनुरोध किया था कि प्लम्बर, वेल्डर आदि ऐसे पाठ्यक्रम है जिसमें दसवीं पास होने की जरूरत नहीं है। इसलिए इसकी योग्यता आठवीं ही कर दी जाए। अरसा पहले इन पाठ्यक्रमों में प्रशिक्षण लेने की योग्यता आठवीं ही थी, जिसे बाद में दसवीं कर दिया गया था। कई राज्यों के सुझाव पर केन्द्र सरकार ने अपनी सहमति जताई। इसके बाद प्रशिक्षण महानिदेशालय ने पिछले सप्ताह इस बाबत आदेश जारी कर दिया।

महानिदेशालय के उप महानिदेशक आर सेंथिल कुमार द्वारा जारी आदेश में शिल्पकार प्रशिक्षण योजना (सीटीएस) के तहत प्लम्बर, वेल्डर, ड्रेस मेकिंग, कारपेंटर, पेंटर, सरफेस ऑर्नामेंटेशन टेक्निक में प्रशिक्षण लेने की योग्यता दसवीं से आठवीं कर दी गई है। सीटीएस के तहत चलने वाले इन पाठ्यक्रमों का प्रशिक्षण एक साल का होता है

दाखिला परीक्षा में हो सकती है परेशानी

अभी बिहार में आईटीआई की प्रवेश परीक्षा में योग्यता दसवीं या इंटर रखी गई है। ऐसे में आठवीं पास की योग्यता रखने पर अलग से परीक्षा लेनी होगी। इसी तरह कुछ विषयों में दसवीं के साथ विज्ञान व गणित को हटाना या जोड़ा गया है। ऐसे में इन पाठ्यक्रमों के लिए एडमिशन लेने में भी परेशानी हो सकती है। हालांकि श्रम संसाधन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि जब महानिदेशालय का आदेश आया है तो सरकारी हो या प्राईवेट आईटीआई, सबों में समान रूप से उस पर अमल होगा।

बिहार में आईटीआई संस्थानों की संख्या

बिहार में अभी कुल 139 सरकारी आईटीआई संस्थान है, जिसमें सामान्‍य की संख्या 101 है, जबकि महिला ITI संस्‍थानों की कुल संख्या 38 है। वहीं, श्रम विभाग द्वारा उग्रवाद प्रभावित इलाकों में भी 9 आईटीआई संस्थान चलाया जा रहा है। पूरे बिहार में प्राइवेट ITI संस्थान की संख्या 1166 है। श्रम विभाग डोमेन स्किल की 1139 संस्थाएं चला रहा है। वहीं, बिहार कौशल विकास मिशन की तरफ से पूरे बिहार में 1750 संस्थाएं काम कर रही हैं।

पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय में विकासशील छात्र मोर्चा द्वारा सीनेट बैठक का विरोध

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular