सोमवार, फ़रवरी 19, 2024
होमव्यक्तित्वबिहार के लाल चिंतन वत्स झा का कमाल, नेत्रहीन दिव्यांगों के लिए...

बिहार के लाल चिंतन वत्स झा का कमाल, नेत्रहीन दिव्यांगों के लिए बनाई अनोखी डिवाइस

बिहार की प्रतिभा और जूनून के किस्से आए दिन सुनने को मिलते हैं। इस कड़ी में एक और नाम जुड़ने जा रहा है बात कर रहे हैं बिहार के एक होनहार सपूत की जिसकी चर्चा मीडिया में हो रही है। भागलपुर के छात्र चिंतन वत्स झा ने नेत्रहीन दिव्यांगों के लिए एक अनोखी डिवाइस डिज़ाइन की है, जिससे नेत्रहीन लोगों को काफी सहूलियत होगी।

आईआईटी खड़गपुर में अंतिम वर्ष के दो छात्रों ने मिलकर नेत्रहीन दिव्यांगों के लिए एक अनोखी डिवाइस “विजन” यानी विजुअल इंपेयरमेंट सपोर्टिंग इंटरएक्टिव ऑब्सटेकल नैविगेटर’ विकसित की है। इन छात्रों में एक बिहार के भागलपुर का चिंतन वत्स झा है और दूसरा जयपुर का दीपेश गुप्ता। इस स्टार्टअप प्रोजेक्ट को बनाने के लिए पटना आईआईटी के इनक्यूबेशन सेंटर से मंजूरी मिल गई है। इसके लिए दस लाख रुपये की राशि भी स्वीकृत हो गयी है।

वॉयस कमांड पर काम करेगी डिवाइस

नेत्रहीन दिव्यांगों के लिए एक खास तरह की डिवाइस बनाने वाले चिंतन वत्स झा और दीपेश गुप्ता ने बताया कि इस डिवाइस से नेत्रहीनों को बहुत फायदा होगा। यह एक स्मार्ट ग्लास की तरह होगी, इसे चश्मे के फ्रेम में फिट किया जाएगा। इसमें डीप लर्निंग, मशीन लर्निंग और आर्टिफिशियल इंटीलीजेंस का इस्तेमाल किया जाएगा। यह इतना छोटा होगा की बहुत मुश्किल से दिखेगा। इसके अंदर एक कैमरा, एक सेंसर और ईयर पीस होगा।

यह वॉयस कमांड के माध्यम से काम करेगा। नेत्रहीन व्यक्ति को अगर किसी दिशा में जाना होगा तो उन्हें गूगल मैप एपीआई की तरह जानकारी मिल जाएगी। इनके कान में लगा ईयर पीस और ऑडिवल डायरेक्शन से इन्हें दिशा का ज्ञान हो जाएगा।

पांच साल की नौकरी में 1.72 करोड़ उड़ा पटना-दिल्ली में बनाये मकान

यह डिवाइस पूरी तरह से एक उंगली के इशारे पर काम करेगी। अगर नेत्रहीन व्यक्ति को टाइम देखनी है तो वह सिर्फ घड़ी की तरफ इशारा कर देगा तो टाइम बता देगा। नेत्रहीन व्यक्ति के पास से कौन सी गाड़ी गुजरी है। अगर हाथ का इशारा उधर कर देंगे तो गाड़ी का नंबर भी पता चल जाएगा। वॉयस कामंड के माध्यम से अपने मोबाइल से मेल या एसएमएस भी आसानी से कर सकेंगे। इसके लिए सिर्फ उसे एक निर्देश देना होगा। जिसे मैसेज या मेल करना होगा। उसका नाम व इमेल आईडी बोलना होगा।

किताब पढ़ने में होगी आसानी

अभी तक नेत्रहीन व्यक्ति ब्रेल लिपी के माध्यम से किताब को उंगली के माध्यम से पढ़ते थे। पर अब इस नयी डिवाइस से किसी भी साधारण किताब को पढ़ा जा सकेगा। बस जिस किताब को पढ़ना है उसकी ओर हाथ का इशारा करना होगा। किताब में लिखे अक्षर उसके कानों में सुनाई देने लगेंगे।

इस डिवाइस में आलर्म सेट करने की सुविधा होगी। आगे उसे कौन सा काम किस समय पर करना है। इसकी जानकारी भी डिवाइस देगी। इसके लिए टाइम सेट करना होगा। इस डिवाइस को अपने पास रखने के लिए नेत्रहीन व्यक्ति को शर्ट या टीशर्ट में एक स्पेयर पॉकेट रखना होगा।

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular