गुरूवार, फ़रवरी 29, 2024
होमबिहारपटनाराजधानी पटना में सीएनजी से दौड़ेंगे हल्के वाहन, आम जनता को मिलेगी...

राजधानी पटना में सीएनजी से दौड़ेंगे हल्के वाहन, आम जनता को मिलेगी राहत

अब वो दिन दूर नही जब दुसरे राज्यों के तर्ज पर बिहार के राजधानी पटना में सीएनजी से दौड़ते वाहन दिखेंगे। दिल्ली, मुंबई, लखनऊ और आगरा जैसे शहरों की तरह राजधानी पटना में सीएनजी की व्यवस्था शुरु होने जा रही है। इस व्यवस्था से सबसे ज्यादा हल्के वाहन, कार वालों को फायदा होगा। गैस अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (GAIL) ने अपने पहले फिलिंग स्टेशन के लोकार्पण के लिए तैयारी पूरी कर ली है। उम्मीद है की आगामी 24 फ़रवरी को देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गाड़ियों के लिए सीएनजी और गृहणियों के लिए नेचुरल गैस (PNG) आपूर्ति की शुरुआत कर सकते हैं।

बेली रोड पर पहला सीएनजी स्टेशन

राजधानी पटना में सीएनजी वाहनों की बिक्री और इसके रजिस्ट्रेशन के प्रक्रिया की शुरुआत जल्द होने की उम्मीद है। पटना शहर के बेली रोड स्थित इंडियन आयल के ऑटो केयर पेट्रोल पंप पर गेल ने सीएनजी फिलिंग स्टेशन के दो नोजल स्थापित किये हैं। यहाँ 24 घंटे दोनों नोज़ल से गाड़ियों में सीएनजी सिलिंडर की रिफिलिंग होगी। पेट्रोल गाड़ियों में डीटीओ की अनुमति लेकर, सीएनजी किट लगाकर आम जनता आधे खर्च में अपने सफ़र तय कर सकती है।

ज्ञात हो की नेचुरल गैस पाइपलाइन गया के डोभी से नालंदा होते हुए नौबतपुर और फिर वहां से पटना आ रही है। इस पाइपलाइन के विस्तार के क्रम में नौबतपुर में गेल के द्वारा लगभग 3 एकड़ में अपना सीएनजी स्टेशन बनाया जा रहा है। इंडियन आयल और गेल इंडिया के बीच हुए करार के बाद बेली रोड पर पहला सीएनजी स्टेशन बना है। गेल का लक्ष्य पहले सगुना मोड़ स्थित दो पेट्रोल पंप पर सीएनजी फिलिंग सेंटर चालू करना था। परन्तु पाइपलाइन विस्तार में पथ निर्माण विभाग के आपत्ति के बाद फिलहाल बेली रोड का फिलिंग स्टेशन ही चालू हो सकेगा। आगामी समय में पाटलिपुत्र, बासघाट, न्यू बयपास और फतुहा में फिलिंग स्टेशन चालू करने की योजना है।

ये भी पढ़े: कचरा उठाव 30 रूपए में, बाइक से घूमेंगे मुख्य सफाई निरीक्षक

जल्द सीएनजी किट बाज़ार होगा उपलब्ध, आम जनता को मिलेगी राहत

बिहार का पहला, राजधानी पटना में सीएनजी स्टेशन चालू होने से पहले जल्दी ही गाड़ियों के लिए सीएनजी किट बाज़ार में उपलब्ध होने की संभावना है। पेट्रोल गाड़ियों में सीएनजी किट लगाने में लगभग 30 से 35 हजार का खर्च हो सकता है। अलग अलग कंपनियों की किट की क्षमता 10 से 12 किलोग्राम की होती है। सीएनजी की सुविधा आ जाने से आम जनता पर यात्रा का खर्च कम हो जायेगा और प्रदुषण की समस्या को भी एक विराम मिलने की संभावना है। 1 किलोग्राम सीएनजी से लगभग 20 किलोमीटर की यात्रा तय की जा सकती है। पेट्रोल के मुताबिक सीएनजी से लगभग आधे दाम में जनता अपने यात्रा का लुफ्त उठा सकती है।

आइये देखते हैं प्रति किमी पेट्रोल और सीएनजी के खर्च में अनुमानित अंतर:

गाड़ी पेट्रोल की कीमत सीएनजी की कीमत
कार 5.35 रूपए 2.43 रूपए
ऑटो 3.18 रूपए 1.46 रूपए

यह बात तो निश्चित है की राजधानी पटना में सीएनजी की व्यवस्था से आम जनता को बहुत राहत मिल सकती है| साथ ही दिनोदिन बढ़ रहे प्रदुषण पर भी लगाम लगाया जा सकता है| यहाँ मालूम होना चाहिए की प्रदुषण की समस्या से बिहार राज्य के प्रमुख शहर परेशान हैं| राजधानी पटना, गया और मुजफ्फरपुर जैसे शहर इन दिनों देश में प्रदुषण की समस्या में अव्वल स्थान पर है| उम्मीद है की सीएनजी के आ जाने से इस प्रदुषण से कुछ राहत जरुर मिलेगी|

पटना में CNG पर चलेगी गाड़ियां, मुख्यमंत्री ने कैबिनेट बैठक में योजना को दी मंजूरी

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular