गुरूवार, फ़रवरी 29, 2024
होमबिहारजलजमाव के बाद दिख रहा है आम लोगों में आक्रोश, सड़क पर...

जलजमाव के बाद दिख रहा है आम लोगों में आक्रोश, सड़क पर उतरे लोग

दक्षिणी पटना के लोगों ने पानी निकालने की मांग को लेकर गुरुवार को पांच घंटे तक बाईपास जाम कर दिया। लोगों का कहना था कि दुर्गा पूजा में भी जलजमाव के कारण घर से महिलाएं व बच्चे नहीं निकल सके। मरीजों को अस्पताल ले जाना मुश्किल हो गया है। अब कुछ दिनों के बाद दीपावली व छठ पर्व है। यही स्थिति रही तो अन्य पर्व भी फीका हो जाएगा।

राजेंद्र नगर में मुआवजे की मांग को लेकर इलाकाई लोगों ने गुरुवार को एक बार फिर सड़क पर आगजनी कर वाहनों का आवागमन ठप कर दिया। लोग शासन-प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। सूचना मिलने पर कदमकुआं थानाध्यक्ष निशिकांत निशि दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाने-बुझाने के बाद जाम हटाया। गौरतलब है कि बुधवार को काजीपुर के लोगों दिनकर चौक पर आगजनी की थी और सड़क जाम कर दिया था।

जल जमाव के कारण हरेक सामान खराब

बताते चलें कि राजेंद्र नगर रोड नंबर-छह में शाखा मैदान के पीछे सैकड़ों झोपड़ियां बसी हैं। वहां रहने वाले रॉकी ने बताया कि जलजमाव के कारण झोपड़ियों में रखा हरेक सामान खराब हो गया है। उन्होंने तिनका-तिनका जोड़कर सामान इकट्ठा किया था। किसी के घर में शादी है तो कोई बच्चे को पढ़ाने के लिए पैसे रखा था। उनके अरमानों पर पानी फिर गया। क्षति का आकलन करने के बाद दिमाग काम नहीं करता है।

वहीं, गोल्डी ने बताया कि दिसंबर में उसकी बहन की शादी थी। किसी तरह जेवर और जमा पैसे लेकर वो परिवार के साथ वैशाली गोलंबर पर चला गया था। लौटकर आया तो घर का तोसक (गद्दा) व तकिया सब खराब हो चुका था। बैंक का पासबुक और चेक भी पानी में गल गया। बुधवार को वह पासबुक और चेक लेकर गया था। बैंक कर्मियों ने उसे प्रथम श्रेणी दंडाधिकारी से हस्ताक्षरित शपथ पत्र के साथ थाने में दर्ज सनहा की छायाप्रति के साथ आने को कहा। तब भी उसे नया पासबुक और चेक दिया जाएगा।

पटना में जलजमाव: कैसे निकले पानी जब ठप्प पड़ा है सम्प हाउस

उसका कहना है कि पटना नगर निगम की अनदेखी के कारण उन्हें शपथपत्र बनवाने के लिए रुपये खर्च करने पड़ेंगे। यहां रहने वाले सभी लोग मजदूरी करते हैं। दूसरे की गलती का खामियाजा यहां के बाशिंदे क्यों भुगतें? लोगों ने सरकार से उचित मुआवजे के साथ पीड़ितों को सरकारी कामकाज में सहूलियत देने की मांग की।

नागरिकों ने बताया कि रामकृष्ण नगर, खेमनीचक, मधुबन कॉलोनी और विश्वकर्मा कॉलोनी में अब भी जलजमाव है। लोगों ने कई बार प्रशासन को जानकारी दी, लेकिन स्थिति यथावत है। कई घरों में आज भी पानी घुसा हुआ है। पानी निकलने के उपाय नहीं हो रहे हैं।

जाम से गाड़ियों की लगी रही कतार

सुबह से जलनिकासी को लेकर बादशाही पईन को साफ कराने की मांग को लेकर नागरिकों ने रामकृष्णा नगर के समीप जाम कर दिया, जिससे गाड़ियों की कतार लगीं। यात्रियों को परेशानी हुई। स्कूली बसें भी जाम में फंसी रहीं। बड़ी संख्या में महिलाएं व पुरुष सड़क पर जमा थे। पांच घंटे के बाद पुलिस पहुंची और लोगों को समझाकर दो दिनों का समय मांगा।

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular