सोमवार, फ़रवरी 26, 2024
होमबिहारपटनाबिहार में शुरु हुआ सहकारिता महासम्मेलन, जानें क्या है इसका लक्ष्य

बिहार में शुरु हुआ सहकारिता महासम्मेलन, जानें क्या है इसका लक्ष्य

बिहार में राजधानी पटना में तीन दिवसीय सहकारिता महासम्मेलन का आयोजन किया गया है। यह महसम्मेलन 23 फरवरी से पचना के बापू सभागार में आयोजित होगी। इस सहकारिता महासम्मेलन में देश भर से सहकारिता से जुड़े लोग शिरकत करेंगे। देश के सभी राष्ट्रीय स्तर के संस्थाओं जैसे भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ नई दिल्ली, इफको, कृभको, नेफेड, नेफ्स्कोब, फिशकॉपफेड के अध्यक्ष, प्रबंध निदेशक एवं निदेशक मंडल के सदस्यगण पहुंचेंगे।

वहीं पूरे राज्य से तकरीबन 6500 पैक्स, व्यापार मंडल, केन्द्रीय सहकारी बैंक, राज्य सहकारी बैंक एवं अन्य सहकारी समितियों के अध्यक्ष/प्रतिनिधि शिरकत करेंगे। सभी एक छतरी के नीचे बैठकर, ’’किसानों की आय दोगुनी करने में कृषि और सहकारिता की भूमिका’’ विषय पर परिचर्चा करेंगें।

सुनील कुमार सिंह ने कहा, कार्यक्रम का मनसा है किसानों की आय दोगुनी करना

बता दें कि पटना में पत्रकारों से बातचीत में बिस्कोमान के अध्यक्ष डॉ॰ सुनील कुमार सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी द्वारा वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया गया है। सहकारिता प्रक्षेत्र में सर्वप्रथम बिहार के सहकारीजनों द्वारा राज्य के किसानों की आय दोगुनी करने में सहकारी संस्थाओं की क्या भूमिका हो, इसी बिंदू पर परिचर्चा होगी।

बिस्कोमान के अध्यक्ष ने बताया कि देश के विभिन्न राज्यों से आने वाले नामचीन अध्यक्षों का पाटलिपुत्र की पुरातन पावन धरती पर पूरे पारंपरिक तरीके से स्वागत करने की व्यवस्था की जा रही है, ताकि बिहारी माटी एवं संस्कृति की खुशबू वे अपने साथ ले जा सकें।

उन्होंने कहा, इसके लिए कोलकाता के कारीगरों द्वारा बड़े-बड़े प्लाई बोर्ड के दस सहकारिता तोरण द्वार बनाए जा रहे हैं। बिहार सहकारिता आन्दोलन के गौरव का प्रतीक पटना के हृदयस्थली में अवस्थित बिस्कोमान भवन एवं टावर को चन्दन नगर, बंगाल के बिजली की सजावट करने वाले कारीगरों द्वारा सजाया जा रहा है। पूरे देश से आने वाले लगभग 188 माननीय अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक को होटल मौर्या, होटल पनाश एवं होटल जिंजर में ठहराने की व्यवस्था की गई है।

किसानों को भी दी जाएगी प्रशिक्षण

विदित हो कि हाल ही में बिहार राज्य निर्वाचन प्राधिकार द्वारा ग्राम पंचायत स्तर पर गठित किसानों की सहकारी संस्था प्राथमिक कृषि साख समिति (पैक्स) के सम्पन्न निर्वाचन में नवनिर्वाचित अध्यक्षों के साथ शीर्ष सहकारी संस्थाओं के अनुभवी सहकारी नेताओं से अनुभव शेयर करने का अवसर प्राप्त होगा। परिणाम स्वरूप उन्हे व्यवहारिक प्रशिक्षण मिलेगा, जिससे उन्हें अपने पैक्स के किसानों की आय दोगुनी करने में अपनें दायित्वों के सम्यक् निर्वहन की प्रेरणा मिलेगी।

आपको बता दें कि बिहार राज्य के सहकारिता आन्दोलन के इतिहास में यह पहला मौका होगा, जब 22 फरवरी, 2020 राष्ट्रीय स्तर के 7 शीर्ष सहकारी संस्थाओं के निदेशक मंडलों और उपसमितियों की भी बैठक होनी है।इन बैठकों का उद्घाटन बिहार के सहकारिता मंत्री राणा रणधीर सिंह और कृषि मंत्री डा॰ प्रेम कुमार द्वारा किया जाएगा। शाम में नेफ्स्कोब, नवी मुंबई का होटल मौर्या के अशोक दरबार हाल में नेशनल सेमिनार होना है। जिसका उद्घाटन बिहार के सहकारिता मंत्री राणा रणधीर एवं कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार करेंगे।

मुख्य आयोजक

त्रिदिवसीय (22-24 फरवरी, 2020) सहकारिता महासम्मेलन के अवसर पर दिनांक 22 फरवरी,2020, (होटल मोर्या), दिनांक 23 फरवरी, 2020 (विस्कोमान टावर के 18वें तल पर) को देश-विदेश से आए प्रतिनिधियों के सम्मान में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया है। आने वाले सभी अतिथियों को पटना-भ्रमण (22 फरवरी,2020), बिहार के एतिहासिक स्थलों का भ्रमण (24 फरवरी,2020) एवं सरोवर प्रिमियर, बोध गया में (24 फरवरी,2020) सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया है।

बिहार चुनाव के 20-20 में तेजस्वी बनाम नीतीश की होगी लड़ाई

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular