जानें covid-19 के कारण देश के कौन-2 राज्य हुए लॉकडाउन, क्या है वहां की स्थिति

0
1343
bihar breaking news

दोस्तों, covid-19 के खिलाफ जंग लड़ने के लिए देश के 28 राज्यों में से 22 राज्यों ने अपने-अपने स्तर पर प्रयास शुरू कर दिए हैं. जनता कर्फ्यू के बाद आज सोमवार यानि 23 मार्च से देश के 76 जिलों को लॉकडाउन कर दिया गया है, जिससे कोरोना को फैलने से रोका जा सके. सबसे पहले हम आपको यह बताना चाहेंगे कि भारत में covid-19 के पीड़ितों की संख्या 400 के करीब पहुंच चुकी है. औऱ देशभर में जनता कर्फ्यू के दिन यानी रविवार को कोरोना से 3 लोगों की मौत हो गई. इस तरह से covid-19 मरने वालों की कुल संख्या 7 हो गयी है. तो वहीं इससे संक्रमित लोगों की संख्या 391 तक पहुंच गई है. केंद्र और राज्य सरकारों ने भी कोरोना के खात्मे के प्रयास शुरू कर दिए हैं.

आगें पढ़ें, किन-2 राज्यों में हुआ लॉकडाउन

जिन 22 राज्यों में लॉकडाउन किया गया है. उसके बारे में जानने के लिए हम शुरु करते हैं देश की राजधानी दिल्ली से. दरअसल, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को ऐलान किया कि सोमवार सुबह 6 बजे से दिल्ली में लॉकडाउन रहेगा जो 31 मार्च तक जारी रहेगा. उनकी इस घोषणा के साथ ही दिल्ली से सटी सभी सीमाओं को सील कर दिया गया और दिल्ली में धारा 144 लगा दी गई है.

वहीं देशभर में मायानगरी व आर्थिक राजधानी के नाम से मशहूर मुंबई भी इससे अछूता नहीं है. वहां भी आज से लॉकडाउन कर दिया गया है. लोकल ट्रेन पर रोक लगा दी गई है. साथ ही मुंबई में अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट की लैंडिंग पर बैन लगा दिया गया है. महाराष्ट्र के कई शहरों में भी धारा 144 लगा दी गई है.

यूपी के इन जिलों में है लॉकडाउन

अब बात करते हैं दिल्ली से सटे और देश के सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश की. आपको बता दें क यूपी के 16 जिलों में आज से लॉकडाउन कर दिया गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कोरोना वायरस के प्रकोप को बढ़ने से रोकने के लिए कड़े कदम उठाते हुए अगले 3 दिनों तक 16 जिलों में लॉकडाउन घोषित कर दिया है.

हालांकि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की शुरुआती घोषणा में 15 जिले शामिल थे लेकिन बाद में पीलीभीत को भी शामिल कर लिया गया. पीलीभीत के अलावा उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, आगरा, मुरादाबाद, वाराणसी, लखीमपुर खीरी, बरेली, आजमगढ़, कानपुर, मेरठ, प्रयागराज, अलीगढ़, गोरखपुर और सहारनपुर में लॉकडाउन लगा दिया गया.

सीएम नीतीश का कोरोना को लेकर बड़ा फैसला

बात अगर अपने राज्य़ बिहार की करें तो बिहार में रविवार को covid-19 से हुई मौत के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूरे राज्य में 31 मार्च तक के लिए लॉकडाउन किया गया है. इसके बावजूद लोग सोमवार को राजधानी पटना की सड़कों पर नियमों का उल्लंघन करते दिख रहे हैं. इसके बाद मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक बैठक बुलाई गई. इस बैठक में डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय भी मौजूद रहे.

गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि अगले 24 घंटे में पूरा प्रदेश लॉक डाउन हो जाएगा. आज देर रात तक तमाम रेल और हवाई सेवा भी बंद हो जाएगी. इसके बाद लॉक डॉउन का प्रभाव पूरी तरह से दिखने लगेगा. सिर्फ आपात परिस्थिति के लिए ही लोग अपने घरों से बाहर निकल सकेंगे.बता दें कि प्रदेश में दवा और अस्पताल की व्यवस्था लॉक डाउन दौरान रहेंगे. इसके साथ राशन, दूध, रसोई गैस ,पेट्रोल, सब्जियां और फल की व्यवस्था जारी रहेगी।

यहां भी लॉकडाउन हो चुके लोग

गौरतलब है कि राजस्थान और उत्तराखंड में भी 31 मार्च तक के लिए लॉकडाउन घोषित हो चुका है. राजस्थान की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं. पंजाब में कोरोना का एक मामला सामने आने पर राज्य के 5 जिलों (जालंधर, पटियाला, नवांशहर, होशियारपुर और संगरूर में लॉकडाउन लगा दिया गया है. इन 5 जिलों में 31 मार्च तक 31 मार्च तक रहेगी. इनके अलावा मध्य प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, हरियाणा, केरल, गुजरात, छत्तीसगढ़, झारखंड, गोवा, तेलंगाना और नगालैंड में भी लॉकडाउन कर दिया गया है. ईधर, भारतीय रेल ने भी कोरोना जैसे गंभीर मामले पर काफी सराहनीय कदम उठाया है. कोरोना की गंभीरता को देखते हुए इसके प्रसार को रोकने के लिए एक बड़ा फैसला लिया है.

जानें, कोरोना वायरस का इलाज करते हुए अबतक कितने डॉक्टर की हुयी मौत