गुरूवार, फ़रवरी 22, 2024
होमपॉलिटिक्सअनंत सिंह के वकील की चिट्ठी से बढ़ सकती है ASP लिपि...

अनंत सिंह के वकील की चिट्ठी से बढ़ सकती है ASP लिपि सिंह के मुश्किलें

अनंत सिंह के वकील ज्ञानेश्वर मिश्रा ने पत्र में उपराष्ट्रपति, लोकसभा अध्यक्ष, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और आचार समिति के अध्यक्ष को भी संबोधित किया है। इसमें एएसपी लिपि सिंह के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई है।

घर से एके-47 रायफल के साथ अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में फरार चल रहे बिहार के बाहुबली विधायक अनंत सिंह ने 23 अगस्त को दिल्ली के साकेत कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। इसके बाद उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। लेकिन, इन सब के बीच चर्चा में आईं बाढ़ की एडिशनल एसपी लिपि सिंह। दरअसल, अनंत सिंह को ट्रांजिट रिमांड पर लेने के लिए सांसद के स्टिकर लगी गाड़ी से वह कोर्ट पहुंची थीं। उन्होंने जेडीयू एमएलसी रणवीर नंदन की सफारी गाड़ी का उपयोग किया था।

अब इस मामले में अहम मोड़ यह आ गया है कि अनंत सिंह के वकील ने मंगलवार को लोकसभा और राज्यसभा के महासचिव को पत्र भेजकर एमपी कार पार्किंग लेबल और कार का कथित दुरुपयोग के मामले में हुई लापरवाही की जांच करने की मांग कर दी है।गौरतलब है कि अनंत सिंह के वकील ज्ञानेश्वर मिश्रा ने इस पत्र में उपराष्ट्रपति, लोकसभा अध्यक्ष, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और संसद की आचार समिति के अध्यक्ष को भी संबोधित किया है।

शिक्षकों की कमी, बच्चों का हड़ताल, यही है नितीश कुमार का बिहार

अनंत सिंह के वकील ने लोकसभा और राज्यसभा महासचिव को पत्र लिखा है।उनके वकील ने आरोप लगाया है कि पंजीकरण संख्या BR01PF1341 (टाटा सफारी स्टॉर्म) वाली गाड़ी बिहार के जेडीयू एमएलसी डॉ रणवीर नंदन के नाम पर पंजीकृत है जो सांसद नहीं हैं।

पत्र की प्रति प्रधानमंत्री और गृहमंत्री समेत कई संबंधित पक्षों को

इस पत्र में लोकसभा और राज्यसभा की वेबसाइट पर उपलब्ध दिशा निर्देशों को भी बताया गया है। इसके अनुसार, एमपी कार पार्किंग लेबल जारी करने से जुड़ी शर्तें इस प्रकार हैं:

  • संसद सदस्य को वाहन का मेक और पंजीकरण संख्या प्रदान करने की आवश्यकता होती है।
  • वाहन को संसद सदस्य के नाम पर या उसके जीवनसाथी के नाम पर पंजीकृत होना चाहिए।
  • वाहन के पंजीकरण प्रमाण पत्र की फोटोकॉपी सबूत के रूप में प्रदान की जाती है।
  • एक उपक्रम पर हस्ताक्षर किए जाते हैं कि वाहन संसद सदस्य या उसके जीवन साथी के नाम पर पंजीकृत है और उसी का उपयोग विशेष रूप से संसद सदस्य द्वारा किया जाएगा।
  • वह पार्किंग लेबल के किसी भी दुरुपयोग के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार होगा।

अनंत सिंह के वकील ने आगे लिखा है कि वर्तमान घटना सुरक्षा के गंभीर उल्लंघन का एक मामला है। संसद सदस्य के पास कार नहीं है, जिसे पार्किंग लेबल के साथ जारी किया गया है। यह संबंधित सांसद और संबंधित अधिकारी के अनैतिक और अवांछित दृष्टिकोण को इंगित करता है।अनंत सिंह के वकील ने जो पत्र लिखा है इसमें जेडीयू के एमएलसी रणवीर नंदन की गाड़ी का जिक्र किया है।

वकील ने मामले की गहन जांच करने और संसद सदस्य के खिलाफ कार पार्किंग लेबल प्राप्त करने के लिए उचित कार्रवाई के लिए आग्रह किया है। इसके अतिरिक्त उन्होंने ड्यूटी पर तैनात आईपीएस अधिकारी लिपि सिंह पर भी कार्रवाई की मांग करते हुए लिखा है कि उन्होंने संसद सदस्य की कार का इस्तेमाल किया है, जो सेवा नियम का उल्लंघन भी है। इस संबंध में उचित कार्रवाई की जानी चाहिए।

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular