महागठबंधन में समन्वय समिति के लिए राजद को 7 दिनों का समय

0
836
bihar breaking news

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले महागठबंधन में खिंचातान जारी है। हम पार्टी ने समन्वय समिति बनाने के लिए 7 दिनों का ओर समय राजद को दिया है। पार्टी के ओर से शुक्रवार को हुई बैठक के बाद ये फैसला लिया गया। हम पार्टी की ओर से फिर चेतावनी दी गई है। पार्टी ने इसपर तय समय में निर्णय नहीं होने पर अपना निर्णय लेने को कहा है। बताया जाता है कि दिल्ली में हुई बैठक के दौरान राजद को इसके लिए 7 दिनों का समय दिया गया है। ये बैठक महागठबंधन के दलों में वर्चुअल रुप से आयोजित की गई। ऐसे में अगले 5 दिनों में राजद को फैसला लेना होगा। ये बैठक 25 जून को हुई थी। ये जानकारी हम पार्टी प्रवक्ता दानिश रिजवान और विजय यादव ने मीडिया को दी है। बैठक के बाद हम पार्टी प्रमुख के ओर से कोई बयान नहीं आया है।

महागठबंधन में आपसी कलह जारी

[inline_posts type=”related” box_title=”” align=”alignleft” textcolor=”#000000″ background=”#cfcfcf”][/inline_posts]

महागठबंधन में सब पार्टियों में आपसी सामंजस्य की कमी नजर आ रही है। महागठबंधन के छोटे दलों ने अपने लिए जब से अधिक सीटों की मांग रखी है खिंचातान बढ़ रही है। अब फिर से महागठबंधन में समन्वय समिति को लेकर फूट पड़ती दिख रही है। हम पार्टी ने राजद पर इसको लेकर दबाव बनाना शुरु कर दिया है। हम पार्टी अध्यक्ष के फैसले में वीआईपी और रालोसपा का भी समर्थन दिखता है। मुकेश साहनी और उपेंद्र कुशवाहा ने भी इस मांग का समर्थन किया है।

पिछले दिनों हम पार्टी अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के घर वीआईपी और रालोसपा ने बैठक की थी। जिसमें इन दलों ने समन्वय समिति बनाने का निर्णय रखा था। अभी तक राजद ने इस मामले पर कोई बयान नहीं दिया है। जबकि जीतन राम मांझी ने 25 जून तक का अल्टीमेटम दे रखा है। इसी बीच कांग्रेस इस मामले को लेकर ताल मेल बनाने में लगी है। जिसके लिए दिल्ली में सोनिया गांधी की अध्यक्षता में बैठक की गई।