बुधवार, फ़रवरी 28, 2024
होमबिहारबिहार में बाढ़ के कहर से परेशान 26 लाख की आबादी, 25...

बिहार में बाढ़ के कहर से परेशान 26 लाख की आबादी, 25 की मौत

मानसून की पहली बारिश और बिहार में बाढ़ के कारण लगभग 26 लाख की आबादी परेशान है। नदियों का पानी उत्तर बिहार, कोसी और सीमांचल के जिलों के गांव और शहर में घुसकर कहर बरपा रही है। नेपाल से सटे सीमावर्ती क्षेत्रों में रुक रुक कर हो रही बारिश से राज्य के 16 जिले प्रभावित हुए हैं। पिछले 24 घंटों से, सभी प्रमुख नदियाँ खतरे के स्तर से ऊपर बह रही हैं, जिससे कई तटबंध टूट गए।

बिहार के दर्जनों गाँव में बाढ़ का कहर

आपदा प्रबंधन विभाग ने बताया है कि दर्जनों गांवों में बाढ़ आ गई है, जिससे लोग अपने घरों से भागकर सुरक्षित स्थानों पर शरण लेने को मजबूर हुए हैं। कमला बलान नदी का कहर सोमवार को भी अपने चरम पर था। कोसी नदी का डिस्चार्ज बीरपुर बराज के पास कम होने के बावजूद कोई राहत नहीं मिल रही है। महानंदा नदी, पूर्णिया और कटिहार में खतरे के निशान से लगभग डेढ़ मीटर तक ऊपर बह रही है। इस वजह से राज्य के तीन नए जिले सहरसा, पूर्णिया और कटिहार में भी बाढ़ का पानी फैल गया है।

मधुबनी जिले में स्थिति भयावह

मधुबनी जिले में बाढ़ की स्थिति सोमवार को भी बरक़रार रही। कमला बलान, कोसी व अन्य नदियों के जलस्तर में तेजी के वजह से झंझारपुर में तीन जगह बांध टूट गए। कोसी का मुख्य नहर सोमवार को दो जगहों से टूट गया। दो अलग-अलग गांवों में तीन लोग के डूब जाने की खबर है, वही एक व्यक्ति लापता है।

मुजफ्फरपुर में बागमती नदी के जलस्तर में तीन से चार फीट की कमी आई है। इसके वजह से औराई व कटरा प्रखंड में बाढ़ की स्थिति में हल्का सुधार आया है। बिहार में आई इस भयानक बाढ़ की स्थिति से अब तक कई गांवों का सड़क संपर्क प्रखंड मुख्यालय से टूट चूका है। मोतिहारी जिले की सभी नदियां भी उफान पर हैं। नदियों के जलस्तर में वृद्धि के कारण सुगौली में सिकरहना नदी पर बने रिंग बांध तीन जगहों पर टूट गया। बाढ़ के वजह से राज्य के सैकड़ो गांवों में पानी फैल रहा है।

मुख्यमंत्री ने किया हवाई सर्वेक्षण

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार और सोमवार को बाढ़ प्रभावित सीमांचल और कोशी क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण किया। वह आज, मंगलवार को बिहार विधानसभा को स्थिति से अवगत करते हुए कहा कि “फ्लैश फ्लड में अब तक 25 लोग मारे गए हैं, इससे राज्य के 16 जिलों में 25.71 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। उन्होंने आगे बताया की अब तक 199 राहत शिविर स्थापित किए गए हैं जहां 1.16 लाख लोग शरण ले रहे हैं।

बिहार में बाढ़ के कहर से परेशान 26 लाख की आबादी, 25 की मौत
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का हवाई सर्वेक्षण

वह आज, मंगलवार को बिहार विधानसभा को स्थिति से अवगत करते हुए कहा कि “फ्लैश फ्लड में अब तक 25 लोग मारे गए हैं, इससे राज्य के 16 जिलों में 25.71 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। उन्होंने आगे बताया की अब तक 199 राहत शिविर स्थापित किए गए हैं जहां 1.16 लाख लोग शरण ले रहे हैं।

आगे मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने कहा की “सरकार बाढ़ के दौरान जान गंवाने वालों के परिवारों को धन मुहैया कराएगी। हम 19 जुलाई से जिलों में फंड रिवाल्विंग की प्रक्रिया शुरू करेंगे।”

आपदा प्रबंधन विभाग ने कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत और बचाव कार्य जारी है। कार्रवाई को अंजाम देने के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन बल, राज्य आपदा प्रबंधन बल और सीमा सशत्र बल की लगभग 26 कंपनियां तैनात की गई हैं।

ये भी पढ़े: बारिश में बहा विकास, सड़कों पर बाढ़ जैसे हालात

Badhta Bihar News
Badhta Bihar News
बिहार की सभी ताज़ा ख़बरों के लिए पढ़िए बढ़ता बिहार, बिहार के जिलों से जुड़ी तमाम अपडेट्स के साथ हम आपके पास लाते है सबसे पहले, सबसे सटीक खबर, पढ़िए बिहार से जुडी तमाम खबरें अपने भरोसेमंद डिजिटल प्लेटफार्म बढ़ता बिहार पर।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular