विधानसभा चुनाव में अंतर्राष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन ने एनडीए से मांगी 51 सीटें

0
506
bihar breaking news

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव में अंतर्राष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन के प्रदेश अध्यक्ष प्रो. डॉ. जगन्नाथ प्रसाद गुप्ता ने एनडीए गठबंधन से बिहार विधान सभा चुनाव 2020 में वैश्य समाज के लिए 51 सीटों की मांग की।उन्होंने  कहा  कि  51  सीटें  हमारे  समाज को लोकसभा के आधार पर मिले। उन्होंने  हर  लोकसभा  में  कम  से  कम  1  सीट की  मांग  पर  जोर देते हुए कहा कि हमने 51 सीटों के लिए जिन क्षेत्रों को चिन्हित किया है, वहां कम से कम 70 से 80 हज़ार मतदाता वैश्य और व्यापारी समाज से आते हैं।

इसकी  सूची  राष्ट्रीय  नेताओं  एवं  प्रांतीय  अध्यक्षों को बहुत जल्द सौपेंगे : प्रो जगन्नाथ गुप्ता

प्रो. डॉ  जगन्नाथ  प्रसाद  गुप्ता  ने  आगे  कहा  कि  हम  ऐसे  51  विधान  सभा क्षेत्रों को चिन्हित कर उन पर उम्मीदवारी तय कर रहे हैं। इसके  बाद  हम  इसकी  सूची  राष्ट्रीय  नेताओं  एवं  प्रांतीय  अध्यक्षों को बहुत जल्द सौपेंगे। उन्होंने  बताया  कि  वैश्य  समाज  शेरघाटी,  कुम्हरार,  बांकीपुर,  दानापुर,  पटना साहिब,  बगहा, कस्बा, बेगूसराय, सोनपुर, कहलगांव, भागलपुर, शहर,  बेलहर,  शेखपुरा,  नवादा,  औरंगाबाद, ओबरा , खगड़िया,  सूर्यगढ़ा,  कदवा,  बिहारशरीफ,  चकाई, झाझा, जीरादेई, हरलाखी, लौकहा,  फुलपरास,  सीतामढ़ी, रीगा, सुरसंड, गया शहर, लालगंज,  बक्सर,  कांटी,  काराकाट,  नोखा,  डिहरी,  आरा,  सिकटा,  जगदीशपुर, लखीसराय, बाबूबरही, बरारी, वजीरगंज, छपरा, बेतिया, मोतिहारी, मीनापुर और सुगौली आदि विधानसभा को चिन्हित किया।

संख्या बल  के  आधार  पर  अपने  समाज  के  लिए  बिहार  विधानसभा चुनाव में भागीदारी चाहते हैं

उन्होंने कहा कि हम  संख्या बल  के  आधार  पर  अपने  समाज  के  लिए  बिहार  विधानसभा चुनाव में भागीदारी चाहते हैं। वहीं वैश्य नेताओं ने एनडीए को आगाह करते हुए कहा कि अगर एनडीए बिहार विधानसभा में 51 सीटों पर उम्मीदवार नहीं देती है तो वैश्य समाज 120 विधानसभा सीटों पर निर्दलीय चुनाव लड़ने का मन बना लिया है। इसकी जवाबदेही वैश्य नेताओं पर नहीं होगी।

बैठक  में  राजेश्वर प्रसाद राजेश, कमल नोपानी, रमेश गांधी, संतोष कुमार जायसवाल, प्रिंस कुमार राजू,  मनोज  कुमार गुप्ता,  दिलीप कुमार, अवधेश कुमार भक्त, डॉ. सुनंदा केशरी, सौरव भगत और वैश्य समाज के अन्य लोग मौजूद थे। बता दें दो दिन पूर्व अंतर्राष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन ने एनडीए गठबंधन से बिहार विधान सभा चुनाव में वैश्य समाज के लिए 40 सीटों की मांग की थी, लेकिन बिहार भर से पार्टी नेताओं के बढ़ते दबाव को लेकर वैश्य महासम्मेलन ने अब 51 सीटों की मांग की।

तेजस्वी यादव की डिजिटल जन क्रांति