जीतन राम मांझी के ‘हम’का एनडीए में आज शामिल होने का कार्यक्रम टला, जानें अब कब होगी घोषणा

0
376
bihar breaking news

पटना। बिहार में किस गठबंधन का हिस्सा बनेंगे जीतन राम मांझी? इसे लेकर सभी अटकलें लगभग खत्म हो गई। हिंदुस्तान अवाम पार्टी ‘हम’ के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी अब एनडीए का हिस्सा बनेंगे! विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों की उठापटक के बीच मांझी आज एनडीए में शामिल होने की घोषणा करने वाले थे जो किसी कारणवश टल गई। अब ‘हम’सुप्रीमो जीतन राम मांझी कल यानि गुरुवार को एनडीए का हिस्सा बनने की घोषणा कर सकते हैं। इससे पहले महागठबंधन छोड़ने के बाद मांझी ने कहा था कि अभी सभी दलों से बातचीत हो रही है।

जेडीयू में विलय की थी चर्चा

बसपा, एनसीपी, एमआई एम, वामसेफ से लेकर यशवंत सिन्हा के लोगों से भी बातचीत चल रही है। उन्होंने अपने नेतृत्व में तीसरे मोर्चे की तैयारी का भी संकेत दिया था। हालांकि जदयू से संपर्क और मुख्यमंत्री नीतीश से टेलिफोन पर बातचीत के बाद ही अटकलें लगाई जा रही थी कि मांझी जदयू के साथ जा सकते हैं और एनडीए का हिस्सा बन सकते हैं। उल्लेखनीय है कि महागठबंधन का हिस्सा रहे मांझी कई बार महागठबंधन में समन्वय समिति के गठन की मांग कर चुके थे। इसके लिए उन्होंने कई बार राजद को अल्टीमेटम भी दिया था। लेकिन उनकी मांग पर राजद की ओर से कोई तवज्जो नहीं दिया गया और उनकी धमकी को भी नजरअंदाज किया गया। इसके बाद मांझी ने महागठबंधन छोड़ने का फैसला किया।

16 सीटों पर पार्टी की तैयारी पूरी

चर्चा चल रही थी कि महागठबंधन से अलग होने के बाद मांझी की पार्टी का जेडीयू में विलय होगा। हालांकि हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने यह साफ कर दिया कि जेडीयू के साथ पार्टी का विलय नहीं होगा। पार्टी नेतृत्व का कहना है कि पार्टी को समाप्त नहीं किया जाएगा। गठबंधन के बाद ही सीट शेयरिंग की बात की जाएगी। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में हम ने 16 विधानसभा सीटों पर लड़ने पूरी तैयारी रखी है। बताया जा रहा है कि गठबंधन होता है तो पार्टी जेडीयू से इतनी ही सीटों की मांग भी करेगी। पार्टी ने अधिकतर मगध प्रमंडल के सीटों पर ही अपनी दावेदारी की। वैसे पार्टी का शीर्ष नेतृत्व कोसी और पूर्णिया क्षेत्र के कुछ सीटों को अपना प्रभाव क्षेत्र में मान रहा है।