ठनका की चपेट में आने से 18 की मौत,पटना में बदला मौसम

0
ठनका की चपेट में आने से 18 की मौत,पटना में बदला मौसम
ठनका की चपेट में आने से 18 की मौत,पटना में बदला मौसम

पटना। बिहार के विभिन्न जिलों में मंगलवार को बारिश कहर बनकर टूटी। वैशाली, रोहतास, सारण, भोजपुर, गोपालगंज, बेगूसराय, सुपौल, पटना, कैमूर और अररिया जिले में ठनका के चपेट में आने 17 लोगों की मौत हो गई। सबसे अधिक मौत वैशाली जिले के राघोपुर में हुई। राघोपुर पूर्वी पंचायत में ठनका की चपेट में आकर चार लोगों की मौत हो गयी। जबकि रोहतास के खुर्माबाद में दो किसानों की मौत ठनका गिरने से हुई। वहीं एक व्यक्ति की मौत काराकाट में हुई। इसके अलावा पटना जिले के पालीगंज में ठनका गिरने से एक व्यक्ति कि मौत हो गई। सारण जिले के पानापुर में बिजली गिरने से दो बच्चियों की मौत हो गई। भोजपुर जिले के उदवंतनगर में दो लोगों की मौत हुई। मृतकों में एक छात्रा शामिल है। वह कॉलेज से घर लौट रही थी तभी उस पर बिजली गिर गई। गोपालगंज के भोरे में ठनका गिरने से दो बच्चों की मौत हो गई। बेगूसराय जिले के डंडारी थाना क्षेत्र में ठनका गिरने से एक महिला की मौत हो गई। अररिया जिले के फारबिसगंज प्रखंड के पुरवारी झिरवा में वज्रपात की चपेट में आने से मो.सदरूल की मौत हो गई। सुपौल जिले के बसंतपुर प्रखंड के कोचगामा में ठनका गिरने से 37 साल के मोहम्मद नासिर की मौत हो गई। कैमूर जिले के चैनपुर के लोहरा गांव में ठनका गिरने से एक किशोर की मौत हो गई।

पटना में भी बदला मौसम

राजधानी पटना का मंगलवार को मौसम चंद घंटे में बदल गया। सुबह से दोपहर तक उमस भरी गर्मी से लोग त्रस्त थे। दोपहर में अचानक आसमान में काले बादल छा गए। इसके बाद भारी बारिश हुई। करीब दो घंटे हुई बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली। वहीं विभिन्न इलाकों में जलभराव होने के कारण लोगों को कठिनाईयों का सामना करना पड़ा।

भारी बारिश और बिजली गिरने का अलर्ट

मौसम विभाग ने बिहार के कई जिलों में भारी बारिश और बिजली गिरने की चेतावनी जारी की। विभाग ने कहा कि अगले छह घंटे तक उत्तर बिहार में भारी बारिश की संभावना है। विभाग ने लोगों से इस दौरान ऐहतियात बरतने की अपील की। विभाग ने रोहतास, कैमूर, शेखपुरा, नवादा, सारण और बक्सर में बिजली गिरने की संभावना जताई। विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी से हवा नमी लेकर उत्तर बिहार की ओर बढ़ रही है, जिसके चलते उत्तर बिहार में भारी बारिश हो सकती है। आपदा प्रबंधन विभाग ने लोगों से सतर्क रहने की अपील की।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here